बंगाल में मचे विवाद के बीच पुरुलिया पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने कहा, एक सीएम धरने पर बैठी हैं उन्हें लोकतंत्र पर विश्वास नहीं है

2019-02-05_CMYogi.jpg

पश्‍चि‍म बंगाल की मुख्‍यमंत्री और केंद्र सरकार की लड़ाई लगातार तीखी होती जा रही है. इसी का परिणाम है कि सीएम ममता बनर्जी का प्रशासन एक के बाद एक बीजेपी के नेताओं को पश्‍च‍िम बंगाल में उतरने की अनुमति नहीं दे रहा है. यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ को लगातार दूसरी बार बंगाल में अपना हेलिकॉप्‍टर उतारने की इजाजत नहीं मिली. इसीलिए योगी इस बार झारखंड के रास्‍ते पश्‍च‍िम बंगाल के पुरुलिया पहुंच गए. झारखंड में पहले योगी का चॉपर उतरा, उसके बाद वह बोकारो होते हुए पुरुलिया पहुंचे.

इस बीच रास्‍ते में उन्‍होंने एक बातचीत में कहा, पश्‍च‍िम बंगाल की ये सरकार अंसवैधानिक और अलोकतांत्र‍िक गतिविधियों में लगी हुई है. नहीं तो क्‍या कारण है कि मेरे जैसे एक संन्‍यासी या योगी को बंगाल की धरती पर उतरने नहीं दिया जा रहा है.

इससे पहले रविवार को योगी की एक रैली बंगाल में होनी थी, लेकिन तब भी उनके चॉपर को उतरने की इजाजत नहीं दी गई. इसलिए बीजेपी ने योगी को बंगाल भेजने का ये प्‍लान बनाया. पुरुलिया पहुंचकर योगी का मुख्‍य निशाना ममता बनर्जी ही रहीं.

यहां पहुंचकर सीएम योगी ने कहा, लोकतंत्र के लिए इससे ज्‍यादा कुछ शर्मनाक नहीं हो सकता कि एक मुख्‍यमंत्री ही धरने पर है. उन्होंने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल में टीएमसी गुंडागर्दी चला रही है. यहां भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले हुए. टीएमसी सरकार ने दुर्गा पूजा पर रोक लगाई, रथ यात्रा पर रोक लगाई. ममता की अराजकता ज्यादा दिन नहीं चलेगी.



loading...