मेघालय में कर्नाटक की तरह बना सकती है कांग्रेस अपनी सरकार, कर सकती है दावा पेश, उपचुनाव में मारी बाज़ी

मेघालय: 200 फीट गहरी खदान में फंसे खनिकों में से नौसेना ने 1 शव निकाला, नैवी और NDRF का बचाव अभियान जारी

मेघालय: खदान में फंसे 15 मजदूरों का 18 दिन बाद भी नहीं मिला कोई सुराग, भारतीय नौसेना और NDRF का बचाव अभियान जारी

मेघालय में खदान में फंसे खनिकों को बचाने का अभियान तेज, वायुसेना ने राहत कार्य के लिए सुपर हरक्यूलिस को उतारा

राहुल गांधी ने खदान में फंसे खनिकों को बचाने के बहाने PM मोदी पर साधा निशाना, फोटो न खिंचवाकर उन्हें बचाएं

मेघालय में 13 मजदूर कोयला खदान में फंसे, सीएम संगमा बोले- हालात बेहद नाजुक, सभी को सुरक्षित बचाना मुश्किल

मेघालय में NDA की सरकार, कोनराड संगमा ने ली CM पद की शपथ, राजनाथ-शाह हुए समारोह में शामिल

2018-05-31_Meghalaya.jpg

मेघालय में कांग्रेस सबसे बड़ी सिंगल लार्जेस्ट पार्टी बनकर सामने आई है. यहां की अंपाती सीट पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस की मियानी डी शिरा ने अपनी प्रतिद्वंद्वी जी मोमिन को 3000 से अधिक वोटों से मात देदी. 

आपको बता दें 28 मई को देश में 14 सीटों पर उपचुनाव हुए जिसमें 4 सीटें लोकसभा की थी और 10 सीटें विधानसभा की. आज जारी हुए परिणामों में मियानी डी शिरा ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी और नैशनल पीपल्स पार्टी के प्रत्याशी जी मोमिन को 3191 वोट से शिकस्त किया. कर्नाटक की तरह देखे तो यहाँ भी सबसे बड़ी पार्टी को सत्ता का निमंत्रण मिलेगा. 

कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी को सबसे बड़ी पार्टी होने पर सरकार बनाने का न्योता दिया था ठीक उसी तरह से अब कांग्रेस यहां की सबसे बड़ी पार्टी है और वह सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है. अंपाती सीट मेघालय के पूर्व सीएम मुकुल संगमा की सीट थी. हालांकि, इस चुनाव के बाद मुकुल संगमा ने दो जगह से विजयी होने के कारण एक सीट से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद कांग्रेस के पास कुल 20 सीटें बची थीं.

आज की जीत के बाद उसके बाद 21 सीट हैं. वहीं दूसरे नंबर पर नेशनल पीपुल्प पार्टी 20 सीटों के साथ है. भारतीय जनता पार्टी को 02 सीटें मिली थी. एचएसपीडीपी को दो, यूडीपी को 6, पीडीएफ को 4 और 11 निर्दल विधायकों को सफलता मिली थी.

वैसे तो मार्च में भी कांग्रेस ने सरकार बनाने का दावा पेश किया था पर वह उसमें सफल नहीं हो सकी थी. गठ बंधन कर बीजेपी और एनपीपी ने सरकार बनाई और अब वहां के मुख्यमंत्री संगमा है. 



loading...