Hindi Diwas: जानिए 14 सितंबर को क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस

2019-09-14_HindiDiwas.jpg

हर साल 14 सितंबर को हिन्‍दी दिवस मनाया जाता है. इसी दिन 1950 में भारत की संविधान सभा ने देवनागरी लिपि में हिन्‍दी को राष्‍ट्र की राजभाषा का दर्जा दिया था.

देशभर के लगभग 40 फीसदी लोगों द्वारा बोली जाने वाली राजभाषा हिन्‍दी संविधान की छंठी सूची में शामिल 22 भाषाओं में से सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है. भारत सरकार ने राजभाषा को बढ़ावा देने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम भी उठाए हैं तथा अंतर्राष्‍ट्रीय मंचों पर भी हिन्‍दी का उपयोग हो रहा है. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने इस दिशा में पहल की थी, संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में हिन्‍दी में उनके भाषण को आज भी याद किया जाता है.

'मैं भारत की जनता की ओर से राष्‍ट्र संघ के लिए शुभकामनाओं का संदेश लाया हूं. महासभा के 32वें अधिवेशन के अवसर पर मैं राष्‍ट्र संघ में भारत की दृढ़ आस्‍था को पुन: व्‍यक्‍त करना चाहता हूं. जनता सरकार को शासन की बागडोर संभाले केवल 6 माह हुए हैं. फिर भी इतने अल्‍प समय में हमारी उपलब्‍धियां उल्‍लेखनीय है. भारत में मूलभूत मानव अधिकार पुन: प्रतिष्ठित हो गए हैं.'

हिंदी भाषा भारत की आधिकारिक भाषा और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में मान्यता प्राप्त अल्पसंख्यक भाषा है. यह लगभग 425 मिलियन लोगों की पहली भाषा है और दूसरी भाषा 120 मिलियन है. हिंदी का नाम फ़ारसी शब्द "हिंद" से पड़ा है, जिसका अर्थ है "सिंधु नदी की भूमि." फ़ारसी बोलने वाले तुर्क जिन्होंने गंगा के मैदान और पंजाब पर आक्रमण किया, 11 वीं शताब्दी की शुरुआत में सिंधु नदी के किनारे बोली जाने वाली भाषा का नाम "हिंदी" था. भारत के अलावा, मॉरीशस, सूरीनाम, नेपाल, त्रिनिदाद और टोबैगो, संयुक्त राज्य अमेरिका और दक्षिण अफ्रीका सहित अन्य देशों में भी हिंदी बोली जाती है.


 



loading...