बीजेपी नेता बाबुल सुप्रियो के बिगड़े बोल, कहा- टांग तोड़कर व्हीलचेयर दे सकता हूं

कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार का तबादला, अनुज शर्मा को दी गई जिम्मेदारी

बंगाल की खाड़ी में आया 5.1 तीव्रता का भूकंप, चेन्नई तक हिल गए घर और ऑफिस

CBI vs Mamata: विरोध प्रदर्शनों में शामिल होने वाले अधिकारियों पर गिरी गाज, वापस लिए जायेंगे मेडल

CBI vs Mamata: गृह मंत्रालय ने कोलकाता पुलिस कश्मिनर के खिलाफ जांच के दिए आदेश, ममता सरकार को लिखा पत्र

बंगाल में मचे विवाद के बीच पुरुलिया पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने कहा, एक सीएम धरने पर बैठी हैं उन्हें लोकतंत्र पर विश्वास नहीं है

ममता सरकार ने योगी आदित्यनाथ के बाद अब शिवराज सिंह चौहान को नहीं दी हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति

2018-09-19_BabulSuprio.jpeg

बीजेपी के कुछ नेता और मंत्री अक्सर अपने बयानों के कारण सुर्खियों में रहते हैं. इन्हीं में से एक हैं केंद्रीय राज्य मंत्री और पश्चिम बंगाल के आसनसोल से सांसद बाबुल सुप्रियो. अपने संसदीय क्षेत्र में दिव्यांगों के आयोजित एक कार्यक्रम में मंत्री अपना आपा खो बैठे और टांग तोड़ने की धमकी दे डाली. न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया है जिसमें बाबुल सुप्रियो एक व्यक्ति को धमकी देते नजर आ रहे हैं. आसनसोल में दिव्यांगों के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. इस कार्यक्रम में सुप्रियो घनश्याम नामक शख्स को इस क्षेत्र में पिछले चार वर्षों से मेहनत करने के लिए उनको सम्मानित कर रहे थे.

इसी दौरान वो किसी व्यक्ति की तरफ इशारा कर पूछते हैं क्या हो गया भाई साहब, कोई तकलीफ है? आपका एक टांग तोड़कर फिर मैं आपको व्हीलचेयर दे सकता हूं. इधर आ जाइए. बाबुल सुप्रियो यहीं नहीं रुके. उन्होंने अपने सुरक्षा कर्मियों से कहा, अगली बार यदि यह वहां से हिले तो इनका एक पैर खोल लीजिएगा, मैं इनको एक-एक लाठी दे दूंगा. समझ में आया. मंत्री जिस शख्स को धमकी दे रहे थे उसके लिए लोगों से ताली भी बजवाई. सुप्रियो की धमकी का वीडियो वायरल हो रहा है.

इससे पहले भी केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो कई बार विवादित बयान दे चुके हैं. उन्होंने पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश समेत देश के तमाम हिस्सों में पिछले दिनों महिलाओं के साथ रेप और छेड़छाड़ की घटनाओं पर कहा था, असमाजिक तत्वों से परिवार की सुरक्षा करने के लिए महिलाओं को अपने हाथों में तलवार उठा लेनी चाहिए, जैसे मां काली के हाथों में थी.



loading...