ताज़ा खबर

#MeToo: लपेटे में आए विकास बहल ने अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवाने को भेजा कानूनी नोटिस

2018-10-10_VikasBahalNotice.jpg

यौन उत्पीड़न के आरोपों से घिरे फिल्मकार विकास बहल ने फैंटम फिल्म्स के अपने पूर्व साथियों अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवाने को कानूनी नोटिस भेजा है और उन पर उन्हें बदनाम करने का आरोप लगाया है. पिछले साल फैंटम फिल्म्स की एक कर्मचारी ने आरोप लगाया था कि बहल ने 2015 में गोवा की एक यात्रा के दौरान उसके साथ गलत तरीके से बर्ताव किया था. बहल फैंटम फिल्म्स में कश्यप, मोटवाने और मधु मेंटेना के साथ साझेदार रहे थे. हाल ही में हफपोस्ट के एक लेख में शिकायती महिला की जानकारी सार्वजनिक होने से पहले कश्यप और मोटवाने ने बयान जारी कर अपना प्रोडक्शन हाउस बंद करने की घोषणा की.

जयकर एंड पार्टनर्स के वकील शमशेर गरुण के माध्यम से जारी नोटिस में कहा गया है कि कश्यप और मोटवाने के सार्वजनिक बयान अवसरवादी हैं और बहल के करियर को तबाह करने, उनकी छवि खराब करने के इरादे से पेशेवर ईर्ष्यासे जारी किये गये हैं.

बहल ने उनके खिलाफ सभी आरोपों को पूरी तरह खारिज किया है. नोटिस के अनुसार, यह इरादतन किया गया है कि कथित घटना और कथित पीड़िता के बारे में तीन साल तक चुप रहने के बाद आप अब सामने आये हैं और कथित पीड़िता का समर्थन कर रहे हैं. यहां यह बताना जरूरी होगा कि कथित पीड़िता ने खुद कहा कि आपको अचानक आया नैतिक ज्ञान फर्जी है और इसके पीछे व्यक्तिगत एजेंडा है.

बहल ने नोटिस में बिना शर्त माफी मांगने को कहा है और सोशल मीडिया पर कश्यप तथा मोटवाने के बयानों को हटाने को कहा है. उन्होंने दोनों पर आरोप लगाया कि इन आरोपों का इस्तेमाल फैंटम फिल्म्स को भंग करने और उन्हें जिम्मेदार ठहराने के लिए किया गया. बहल ने कहा कि वे पिछले कुछ महीने से प्रोडक्शन हाउस को बंद करने की बात कर रहे थे क्योंकि उनके बीच रचनात्मक और पेशेवर मतभेद थे.



loading...