ताज़ा खबर

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड मामले में राम रहीम के खिलाफ फैसला आज, हरियाणा-पंजाब में बढ़ाई गई सुरक्षा

कांग्रेस को हरियाणा में लगा बड़ा झटका, बीजेपी में शामिल हुए पूर्व सांसद अरविंद शर्मा

हरियाणा के कुरुक्षेत्र में पीएम मोदी ने कहा- जो ईमानदार है उन्हें चौकीदार पर विश्वास है, जो भ्रष्ट है उन्हें मोदी से कष्ट है

जींद उपचुनाव: जाटलैंड में 52 साल बाद खिला कमल, 12935 वोटों से जीते कृष्ण मिड्ढा, कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला की करारी हार

गुरुग्राम के उलावास में चार मंजिला इमारत गिरी, मलबे में दबे 5 से ज्यादा लोग, राहत बचाव कार्य जारी

बीएसएफ में खराब खाने का आरोप लगाने वाले जवान तेज बहादुर यादव के बेटे ने की आत्महत्या

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड मामले में राम रहीम समेत अन्य दोषियों को उम्रकैद की सजा

2019-01-11_RamRahim.jpg

16 साल बाद बहुचर्चित पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में फैसले की घड़ी आखिरकार आ ही गई. मामले में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम मुख्य आरोपी है. बाबा के साथ तीन अन्य किशन लाल, निर्मल और कुलदीप को भी आरोपी बनाया गया है. राम रहीम की पेशी सुनारिया जेल से ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए होगी. अन्य तीन आरोपी कोर्ट में पेश होंगे. साध्वी यौन शोषण केस में जिस जज जगदीप सिंह ने राम रहीम के खिलाफ फैसला सुनाया था, वही आज इस मर्डर केस में फैसला सुनाएंगे.

पुलिस और प्रशासन ने पेशी के मद्देनजर कोर्ट परिसर और शहर की सुरक्षा बढ़ा दी है. ट्रैफिक पुलिस ने जहां माजरी चौक से लेकर बेला विस्ट तक रूट को डायवर्ट कर वाहनों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगा दी है. वहीं, सीबीआई कोर्ट के जज की सुरक्षा बढ़ाने के साथ अदालत परिसर में 240 जवानों को तैनात कर दिया गया है. इसके साथ शहर के चार एंट्री प्वाइंट समेत 17 नाकों पर करीब 12 सौ जवानों को सशस्त्र तैनात किया गया है.

डीसीपी कमलदीप गोयल ने धारा-144 लागू कर शहर में एक साथ चार से पांच लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध लगा दिया है. उन्होंने आदेश का उल्लंघन करने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं. कोर्ट परिसर समेत शहर में नौ बटालियन अतिरिक्त फोर्स तैनात की गई है. कोर्ट परिसर में वकील समेत निजी कार्य के लिए आने वाले लोगों को बिना चेकिंग के प्रवेश नहीं होने दिया जाएगा.



loading...