ताज़ा खबर

दिल्ली में भारी बारिश की वजह से संसद भवन परिसर में भरा पानी, उत्तराखंड में बादल फटने से 2 की मौत

लोकसभा चुनाव: देहरादून में पीएम मोदी ने कहा- कांग्रेस के शासन में भ्रष्‍टाचार एक्सिलेटर और विकास वेंटिलेटर पर रहता है

लोकसभा चुनाव: मेरठ के बाद रुद्रपुर में गरजे पीएम मोदी, कहा- विरोधी और दुश्मन सुन लें, हम डरने वाले नहीं डटने वाले हैं

देहरादून की रैली में बोले राहुल गांधी, 2019 में कांग्रेस की सरकार बनेगी, हर गरीब को न्यूनतम इनकम दी जाएगी

लोकसभा चुनाव: उत्तराखंड में बीजेपी को लग सकता है बड़ा झटका, कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं पूर्व सीएम बीसी खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी

पुलवामा मुठभेड़ में शहीद हुए मेजर विभूति को आखिरी सलामी, ताबूत चूमकर पत्नी बोलीं I Love You

उत्तराखंड हाईकोर्ट से बाबा रामदेव की दिव्य फार्मेसी को बड़ा झटका, मुनाफे का कुछ हिस्सा स्थानीय लोगों में बांटने का आदेश

2018-07-20_uttarakhand-cloudbursts.jpg

उत्तराखंड के चमोली जिले में बादल फटने की घटना के बाद हुई भारी बारिश में दो लोगों की मौत हो गई है, जबकि तीन अन्य पहाड़ी पर मलबे में दब गए. मालारी में गुरुवार देर शाम बादल फटने से हुई भारी बारिश से पहाड़ी का एक हिस्सा टूटकर गिर गया. सरकार की कुछ परियोजाओं में शामिल पांच मजदूर इस पहाड़ी ढलान पर सो रहे थे, जो मलबे में दब गए. इनमें से दो के शव बरामद कर लिए गए हैं, जबकि बाकी तीन की तलाश जारी है. 

दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार सुबह से ही उमस के चलते बुरा हाल रहा, वहीं सुबह 10 बजे के आसपास दिल्ली के अलावा नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम और फरीदाबाद में जमकर बारिश हुई. समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, संसद भवन और केंद्रीय सचिवालय के आस-पास इतनी ज्यादा बारिश हुई कि संसद परिसर व उसके बाहर जलभराव हो गया. ऐसे में बारिश के बीच सांसदों को संसद में प्रवेश करना पड़ा. 

दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार सुबह हुई बारिश से तापमान कुछ डिग्री कम हो गया, जिससे लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली है. बारिश होने से दिल्ली के तापमान में तो कमी आई है, लेकिन राजनीतिक सरगर्मियां संसद में जारी है. आपको बता दें कि लोकसभा में शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव को लेकर चर्चा चल रही है. इस पर शाम को वोटिंग होगी.

उधर, जोधपुर में गुरुवार को 4 घंटे में 70 मिलीमीटर बारिश हुई. शहर के कई इलाकों में पानी भर गया. पावटा इलाके में एक होटल की पार्किंग की दीवार ढह गई. इसमें दबने से तीन दोस्तों की मौत हो गई. हादसे के वक्त वे बाइक से गुजर रहे थे. वहीं, केरू खनन क्षेत्र में अचानक खदान में पानी भरने से एक मजदूर डूब गया.



loading...