स्कूल में छात्राओं को कपड़े बदलते देख रहा था टीचर, गुस्साए परिजनों ने की जमकर पिटाई

2018-08-09_Up-School-teacher.jpg

उत्‍तर प्रदेश के हाथरस जिले में एक शिक्षक ने गुरु और शिष्‍य के रिश्‍ते को शर्मसार कर दिया है. जिले की तहसील सिकन्दराराऊ के हसायन के पायदपुर गांव के एक प्राइमरी स्कूल के एक शिक्षक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. आरोप है कि स्‍कूल में जब ड्रेस बांटा जा रहा था तो कुछ छात्राओं ने छोटी-बड़ी होने की शिकायत की. इस पर जब छात्राएं एक कमरे में जाकर कपड़े बदल रहीं थी तो शिक्षक खिड़ी से उन्‍हें देख रहा था. आरोप है कि इस दौरान टीचर ने कुछ छात्राओं के साथ छेड़छाड़ भी की. छात्राओं ने मामले की जानकारी घरवालों को दी तो उन्‍होंने स्‍कूल पहुंचकर आरोपी टीचर की पिटाई भी की. मामले में आरोपी शिक्षक को बीएसए ने निलंबित कर दिया है.

रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि आरोपी शिक्षक ओमेन्द्र सिंह और हेडमास्टर यशवंत सिंह चौहान के खिलाफ बीएसए द्वारा दायर शिकायत के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है. फिलहाल दोनों को प्रारंभिक जांच के बाद निलंबित कर दिया है. हसायन पुलिस स्टेशन के थाना प्रभारी अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि दोनों टीचरों के खिलाफ धारा 354 (महिलाओं पर हमला या आपराधिक बल उनकी विनम्रता को अपमानित करने के इरादे से), 354 ए (यौन उत्पीड़न), 504 (इरादे से जानबूझकर अपमान शांति का उल्लंघन करने के लिए) और आईपीसी के 506 (आपराधिक धमकी) और पीओसीएसओ अधिनियम के खंड 7 और 8 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो बुधवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें छात्राओं की मां शिक्षक को पीट रहीं हैं. इसके बाद हाथरस के बेसिक शिक्षा अधिकारी हरीश्चन्द्र बुधवार दोपहर को स्कूल पहुंचे और पूरे घटना की जानकारी प्राप्‍त की. घटना सही पाये जाने पर बीएसए ने शिक्षक ओमेन्द्र सिंह को निलम्बित करने के आदेश दे दिये. बीएसए ने टीओआई को बताया कि जांच के दौरान, यह पता चला था कि शिक्षक ने कथित रूप से कक्षा में प्रवेश किया था और कुछ छात्राओं को छुआ भी था.

यह है पूरा मामला
यह घटना मंगलवार को हसयान क्षेत्र के एक गांव में उस समय हुई थी, जब कक्षा छह और आठ की छात्राओं को स्‍कूल की ओर से ड्रेस वितरित की जा रही थी. शिकायत के अनुसार, छात्राओं ने ड्रेस छोटी-बड़ी होने की शिकायत हेडमास्टर से की थी, हेडमास्टर ने अध्यापकों से कहा कि छात्राओं को ड्रेस आपस में बदल कर दे दें. इस बात को लेकर शिक्षक ओमेन्द्र ने एक कमरे में छात्राओं को कपड़े बदलने को कहा, इस दौरान उस कमरे की खिड़की खुली थी. छात्राओं ने शिक्षक पर आरोप लगाया कि वह उन्हें कपड़े बदलते हुए देख रहे थे. इस घटना की सूचना छात्राओं ने अपने परीजनों को दी, जिसके बाद गांव के लगभग एक दर्जन अभिभावन स्कूल आ गये और उन्होंने शिक्षक की जमकर पिटाई कर दी.



loading...