Unnao Case: एम्स में एडमिट रेप पीड़िता की हालत नाजुक, वेंटिलेटर पर रखा गया, मां से मिलीं स्वाति मालीवाल

2019-08-06_UnnaoSurvivor.jpg

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर उन्नाव बलात्कार पीड़िता को बेहतर इलाज मुहैया कराने के मकसद से लखनऊ से सोमवार को एयरलिफ्ट कराकर दिल्ली के एम्स अस्पताल लाया गया है. वहीं मंगलवार को पीड़िता के वकील को भी एयरलिफ्ट कराकर दिल्ली के एम्स लाया गया है.

बताया जा रहा है कि सोमवार को एम्स लाई गई पीड़िता की हालत गंभीर बनी हुई है. मंगलवार को मिली ताजा जानकारी के मुताबिक पीड़िता की हालत गंभीर है. उसे निमोनिया हो गया है और वह वेंटिलेटर पर है. बताया जा रहा है कि उसे बीपी कंट्रोल करने की दवा भी दी जा रही है.

वहीं आज दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल एम्स में पीड़िता की मां से मिलीं. उन्होंने ट्वीट कर बताया कि पीड़िता और वकील की हालत खराब है. उन्होंने ट्वीट किया, ' सबसे दुखद है आज लड़की निमोनिया ग्रस्त और वकील कोमा में जा चुका है. हम एक हफ्ते से यूपी के मुख्यमंत्री से कह रहे हैं कि अच्छे ट्रीटमेंट कि लिए उनको दिल्ली लाया जाए पर हमारी एक न सुनी! सुप्रीम कोर्ट के द्वारा ही वो एयरलिफ्ट किए गए.

इससे पहले भी उन्होंने एक ट्वीट कर बताया कि, 'एम्स में उन्नाव की बेटी की मां से मिली. बच्ची की स्थिति अभी भी बहुत नाजुक है. उसको निमोनिया भी हो गया है और डॉक्टरों के मुताबिक लड़की की जान खतरे में है. मां बहुत घबराई हुई है. डीसीडब्ल्यू की टीम कल रात से परिवार के साथ है और रहेगी. हम हर संभव मदद करेंगे. '

आपको बता दें कि सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता की अध्यक्षता वाली पीठ ने पीड़िता व वकील को तत्काल एयरलिफ्ट कर लखनऊ के अस्पताल से दिल्ली के एम्स में शिफ्ट करने का आदेश दिया था.



loading...