दिल्ली के भारत नगर इलाके में बुजुर्ग भाई-बहन की मौत, हार्ट अटैक से मौत की आशंका

2019-06-14_BrotherSisterDeath.jpg

दिल्ली के भारत नगर इलाके में बुजुर्ग भाई-बहन की बीमारी, लाचारी और अपनों की अनदेखी से मौत हो गई. 80 वर्षीय बहन के गुजर जाने के बाद 95 साल का बीमार भाई बिस्तर से उठ भी नहीं सका और भूख-प्यास से उसकी भी मौत हो गई. भारत नगर इलाके में सरकारी विभाग से रिटायर 80 वर्षीय राजकुमारी देवी अपने बीमार भाई चमनलाल के साथ रहती थी. चमनलाल बीमा कम्पनी से रिटायर थे. जानकारी के मुताबिक, चमनलाल अपनी बहन राजकुमारी देवी के साथ दिल्ली के भारत नगर के राणा प्रताप बाग इलाके में रहते थे. चमनलाल लगभग पिछले दस सालों से लकवे के मरीज़ थे. घर का सारा कामकाज उनकी बहन राजकुमारी देवी ही किया करती थीं.

पड़ोसियों के मुताबिक राजकुमारी को अक्सर दूध लेते हुए देखा जाता था लेकिन पिछले कुछ दिनों से राजकुमारी दूध नहीं ले रही थी. चमनलाल के पड़ोसी ने बताया कि पुश्तैनी कोठी होने की वजह से भाई-बहन ने कभी घर नहीं छोड़ा. 1957 में बनी कोठी से दोनों को गहरा लगाव था. अनुमान लगाया जा रहा है कि रविवार दोपहर हृदयघात के कारण राजकुमारी देवी की मौत हो गई. ऐसे में अपनी देखभाल में अक्षम भाई की मौत भूख-प्यास से तड़प कर हो गई.

बताया जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों से राजकुमारी दूध लेने के लिए नहीं निकली थीं. एक-दो दिन से पड़ोसियों को उनके घर से बदबू आ रही थी. पड़ोसियों की शिकायत पर जब पुलिस ने आकर घर का दरवाजा तोड़ा तो राजकुमारी देवी और चमनलाल मृत पाए गए. 

दोनों बुजुर्ग भाई बहन की लाश सड़ी गली हालत में बरामद की गई. पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल के शवगृह में रखवा दिया है. पुलिस के मुताबिक ऐसा लग रहा है कि दोनों की मौत तीन से चार दिन पहले हुई है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि यमुनापार में मृतक के भाई रहते हैं जिन्हें जानकारी दे दी गई है. अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साफ हो पाएगा कि मौत असली वजह क्या है.



loading...