ताज़ा खबर

पटाखे पर बैन के बाद त्रिपुरा गवर्नर का ट्वीट- जल्द ही हिंदुओं के चिता जलाने पर भी लग सकती है रोक

त्रिपुरा में सरकारी फरमान, मीटिंग के दौरान जींस, कार्गो पैंट और डेनिम शर्ट न पहनें अधिकारी

असम NRC मामले के बाद अब त्रिपुरा के सीएम के जन्मस्थान को लेकर बवाल, बिप्लब देब ने कहा- मैं भारतीय हूं

ऐश्वर्या मिस वर्ल्ड बनीं तो ठीक, पर डायना का बनना समझ से परे: त्रिपुरा के सीएम

त्रिपुरा: विधानसभा में गाया गया पहली बार राष्ट्रगान, CPM विधायक ने कहा- पहले हमसे नहीं की गई बात

त्रिपुरा: बिप्लब देब बनेंगे त्रिपुरा के सीएम, जिष्णु देब वर्मा होंगे उपमुख्यमंत्री

त्रिपुरा: BJP समर्थकों का हंगामा, लेनिन की मूर्ति गिराई, राजनाथ ने गवर्नर से सरकार बनने तक हालात पर नजर रखने को कहा

2017-10-11_tripura-governer.jpg

दिवाली पर होने वाली आतिशबाजी पर उच्च्तम न्यायालय द्वारा रोक लगाए जाने के बाद त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय ने मंगलवार को मोमबत्ती और पुरस्कार वापसी गिरोह पर निशाना साधा और कहा कि वायुप्रदूषण के डर से हिंदूओं के दाह संस्कार पर भी अर्जी आ सकती है.

बीजेपी के नेता रह चुके राज्यपाल ने दिवाली पर होने वाली आतिशबाजी पर रोक पर और दही हांडी के विषय पर हिंदी में ट्वीट किया. दही हांडी का मुद्दा भी अदालत में आया था.

उन्होंने ट्वीट किया, कभी दही हांडी, आज पटाखा, कल हो सकता है प्रदूषण का हवाला लेकर मोमबत्ती और पुरस्कार वापसी गैंग हिंदुओं की चिता जलाने पर भी याचिका डाल दे. शीर्ष अदालत ने सोमवार को कहा था कि दिल्ली और एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर रोक होगी. इससे पहले जन्माष्टमी पर दही हांडी पर बनने वाले पिरामिड की ऊंचाई, उसमें भाग लेने वालों की उम्र का विषय अदालत में चर्चा में रहा.

बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में इस बार दिवाली के मौके पर पटाखों की बिक्री नहीं होगी. ये फ़ैसला सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को सुनाया. इसके साथ ही इस प्रतिबंध को लागू करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली पुलिस की तरफ़ से जारी किए गए सारे स्थाई और अस्थाई लाइसेंस तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के आदेश दिए हैं.



loading...