ताज़ा खबर

जम्मू-कश्मीर के उरी में आर्मी कैंप के पास दिखे संदिग्ध, फायरिंग के बाद इलाके में सेना और पुलिस का सर्च अभियान जारी

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- हमने कभी लोगों से यह वादा नहीं किया कि उनके खाते में 15 लाख रुपए ट्रांसफर किए जाएंगे

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में आतंकी हमले में आरएसएस नेता और सुरक्षा में तैनात पीएसओ की मौत

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के सफाए के लिए सेना के जवानों को मिलेंगी एके-203 राइफल

जम्मू-कश्मीर के अवंतीपोरा में भारतीय वायुसेना का वाहन दुर्घटनाग्रस्त, दो जवानों की मौत

सीमा पर पाक की नापाक हरकतों का सेना ने दिया करारा जवाब, कार्रवाई में मारे गए 8 पाकिस्तानी सैनिक

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षबलों ने एनकाउंटर में लश्कर के 4 आतंकी किए ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

2019-02-11_URIArmyCamp.jpg

जम्मू कश्मीर के उरी में सुरक्षाबलों ने जवानों के सेना कैंप पर आतंकी हमले की बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया. बीती रात उरी के राजारवानी में सेना की आर्टिलरी यूनिट (19 डिवीजन) पर तैनात संतरी ने संदिग्ध हरकत दिखने पर तुरंत फायरिंग कर दी. इसके बाद सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच कई राउंड फायरिंग हुई है.

इसके बाद आतंकियों की खोज के लिए से पूरे इलाके में तलाशी अभियान चलाया गया. ऐसा बताया जा रहा है कि इस मुठभेड़ में कुछ आतंकी मारे गए है. हालांकि अभी तक किसी भी आतंकी का शव नहीं मिला है.

पुलिस और सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है. ज्वाइंट टीमों द्वारा सर्च ऑपरेशन जारी है. इसके साथ ही यह भी सूचना है कि इलाके के नल्लाह के पास दो लोगों को पकड़ा गया है जिनसे पूछताछ की जा रही है.

10 फरवरी को जम्मू कश्मीर के कुलगाम जिले में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन और लश्कर-ए-तैयबा के पांच आतंकवादी मारे गये थे. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों ने रविवार की सुबह जिले के कल्लेम गांव में सुरक्षाबलों के तलाशी दल पर गोलियां चलाई जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. 

उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में पांच आतंकवादी मारे गए और मौके से हथियार एवं युद्ध संबंधी सामग्री बरामद की गईं. पुलिस अधिकारी ने बताया कि मारे गए आतंकवादियों की पहचान वसीम अहमद राथर, अकीब नजीर मीर, परवेज अहमद भट, इद्रिस अहमद भट और जाहिद अहमद पार्रे के तौर पर हुई है.



loading...