तेलंगाना विधानसभा चुनाव परिणाम: हार को देखकर बौखलाई कांग्रेस, ईवीएम में गड़बड़ी का दिया हवाला

चंद्रबाबू नायडू को बड़ा झटका, बीजेपी में शामिल हुए TDP के 60 नेता, नड्डा ने कहा- 31 दिसंबर से पहले मिलेगा नया राष्ट्रीय अध्यक्ष

तेलंगाना: स्कूल में मॉनिटर का चुनाव हारने की वजह से 13 साल के छात्र ने की खुदखुशी, रेलवे ट्रैक से शव बरामद

तेलंगाना में कांग्रेस को बड़ा झटका, पार्टी छोड़ टीआरएस में शामिल होंगे 12 विधायक

तेलंगाना कांग्रेस में कलह, पार्टी के झंडे और अन्य चुनाव प्रचार सामग्री में नेता ने लगाई आग

चुनाव आयोग ने तेलंगाना में 62 लोगों के चुनाव लड़ने पर लगाई रोक, पिछली बार नहीं दी थी सही जानकारी

तेलंगाना के दोबारा सीएम बने के चंद्रशेखर राव, राज्यपाल ने दिलाई शपथ

2018-12-11_TRS.jpg

तेलंगाना में भारी नुकसान की ओर बढ़ती दिख रही कांग्रेस ने मंगलवार को यहां ईवीएम में गड़बड़ी का अंदेशा जताया और मांग की कि वीवीपैट की पर्चियों की 100 फीसदी गणना की जानी चाहिए. कांग्रेस ने चुनाव आयोग को बकायदा लिखित शिकायत करके वीवीपैट पर्चियों द्वारा मतगणना कराए जाने की मांग की है. वहीँ टीआरएस ने कांग्रेस के इस आरोप को बकवास बताया है. टीआरएस प्रमुख के. चंद्रशेखर राव की बेटी के. कविता राव का कहना है कि ईवीएम में कोई गड़बड़ी नहीं है. कांग्रेस अपनी हार को पचा नहीं पा रही है इसलिए इस प्रकार के आरोप लगा रही है.

के. कविता का कहना है कि इसमें कोई संदेह नहीं था कि टीआरएस पार्टी भारी बहुमत के साथ सत्ता में बनी रहेगी. लोकसभा सदस्य कविता ने कहा कि राज्य में कोई सत्ता विरोधी लहर नहीं थी क्योंकि टीआरएस सरकार ने पिछले साढ़े चार सालों के दौरान सभी मोर्चों पर अच्छा प्रदर्शन किया है. 7 दिसंबर को तेलंगाना में मतदान हुए थे. यहां कांग्रेस ने 99 सीटों पर अपने प्रत्याशी खड़े किए थे और वह केवल 22 सीटों पर ही आगे चल रही है. पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष उत्तम कुमार रेड्डी ने कहा कि यहां ईवीएम में गड़बड़ी का अंदेशा बहुत अधिक है.

ताजा रूझानों के मुताबिक, 87 सीटों पर बढ़त के साथ यहां सत्तारूढ़ टीआरएस भारी बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करती दिख रही है. राज्य में कांग्रेस ने तेलुगु देशम पार्टी, तेलंगाना जन समिति और भाकपा के साथ मिलकर विपक्षी गठबंधन बनाया था. तेदेपा दो सीटों पर आगे है जबकि गठबंधन के सहयोगी अपनी-अपनी सीटों पर पीछे चल रहे हैं.



loading...