ताज़ा खबर

पटना हाई कोर्ट से तेजस्वी यादव को बड़ा झटका, खाली करना होगा सरकारी बंगला

लोकसभा चुनाव: बिहार महागठबंधन में हुआ सीटों का बंटवारा, RJD को 20 तो कांग्रेस को मिलीं 9 सीटें, गया सीट से जीतनराम मांझी होंगे उम्मीदवार

लोकसभा चुनाव: बिहार में एनडीए में तय हुआ सीटों का बंटवारा, BJP ने अपनी 6 सीटें छोड़ी

चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे लालू यादव की जमानत याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने CBI से मांगा जवाब

लोकसभा चुनाव: बिहार में मायावती ने महागठबंधन से किया किनारा, सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारेगी BSP

बिहार के गया में प्रेमी जोड़े ने जान देकर चुकाई प्यार की कीमत, पुलिस ने दोषियों को किया गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर शेल्टर केस में नागेशवर राव पर अवमानना के आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने लगाया 1 लाख का जुर्माना, दिनभर कोर्टरूम के कमरे रहेंगे बैठे

2019-01-07_TejshwaiYadav.jpg

पटना हाई कोर्ट ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता तेजस्वी यादव की उस याचिका को खारिज कर दिया है, जिसमें उन्होंने बंगले को खाली करने के बिहार सरकार के आदेश को चुनौती दी थी. ये बंगला तेजस्वी को उस वक्त मिला था जब वह राज्य के उप मुख्यमंत्री थे. वह पद से हटने के बाद भी इस बंगले में रह रहे थे. अब उन्हें ये बंगला खाली करना पड़ेगा.

इससे पहले 5 दिसंबर को तेजस्वी का बंगला खाली कराने के लिए कई सरकारी अधिकारी उनके निवास स्थान पहुंचे थे. उस समय तेजस्वी नई दिल्ली में थे. ये मामला बिहार विधानसभा में भी विवाद का मुद्दा बन चुका है. तेजस्वी का बंगला पटना के देशरत्न मार्ग पर स्थित है. बंगले को खाली कराने के लिए जिला प्रशासन के अधिकारी पहुंचे थे. 

बिहार सरकार के आवास विभाग ने जिला प्रशासन को इस मामले में नोटिस जारी किया था. बंगला खाली कराने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल भी पहुंचा था. इन लोगों में भवन निर्माण के अधिकारी भी मौजूद थे.

आपको बता दें कि तेजस्वी यादव इसे लेकर पहले ही बंगले के बाहर पोस्टर लगा चुके हैं. तेजस्वी को पहले भी कई बार बंगला खाली करने को कहा गया था. वहीं वह इस मामले में राज्य सरकार पर आरोप लगाते रहे हैं.



loading...