शूटआउट में चीन को 5-4 से हराकर भारतीय महिला टीम ने फाइनल में मारी बाजी, दूसरी बार जीता हॉकी एशिया कप का ख़िताब

2017-11-06_indiahockey54.jpg

ये दूसरा मौका है जब भारतीय महिला टीम ने ये खिताब जीता है. इससे पहले भारतीय महिला टीम ने 2004 में जापान को हराकर पहली बार ये खिताब जीता था,जबकि 1999 और में वो उपविजेता रही थी.भारतीय महिलाओं ने शुक्रवार को पिछले चैम्पियन जापान को 4-2 से हराकर फाइनल में जगह बनाई थी. जबकि चीन की टीम साउथ कोरिया को हराते हुए फाइनल तक पहुंची थी.

दोनों हाफ में मुकाबला बराबरी पर छूटने के बाद फैसला शूटआउट से हुआ. दोनों टीमों ने 4-4 गोल दागे. इसके बादभारत की तरफ से रानी ने विजयी गोल दागा. दूसरी ओर चीन की खिलाड़ी गोल करने का मौका चूक गईं. इसके बाद भारत 5-4 से ये फाइनल जीत गया.

भारतीय महिलाओं की जीत के साथ ही एशिया कप में दूसरी बार भारत का खिताब डबल भी पूरा हो गया. भारतीय पुरुष टीम ने पिछले महीने ढाका में खेला गए मेन्स टूर्नामेंट जीता था.इंडियन हॉकी हिस्ट्री में 14 साल बाद ये मौका आया है जब मेन्स और वुमन्स एशिया कप भारत इंडिया की झोली में आए हैं. इससे पहले 2003 में भी दोनों खिताब भारत की महिला और पुरुष टीम ने जीते थे.



loading...