ताज़ा खबर

ताइवान पहुंचे 152 वियतनामी पर्यटक हुए लापता, तलाश में जुटे अधिकारी

जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के लिए चीन को मनाने में लगे अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस

पुलवामा हमले के आरोपी मसूद अजहर पर फ्रांस का बड़ा कदम, जब्त होंगी सभी संपत्तियां

न्‍यूजीलैंड के क्राइस्‍टचर्च में दो मस्जिदों में अंधाधुंध फायरिंग, कई की मौत, बाल-बाल बची बांग्लादेश क्रिकेट टीम

पाकिस्तान में भी उठने लगी आतंकवाद के खिलाफ आवाज, बेनजीर के बेटे ने इमरान सरकार पर लगाया गंभीर आरोप

जैश सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने में चीन ने फिर लगाया अडंगा, UNSC में बैन के प्रस्ताव पर लगाया वीटो

मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने में चीन ने भारत से फिर मांगे सबूत

2018-12-26_viatnam.jpg

ताइवान से 152 वियतनामी पर्यटक लापता हो गए हैं. ताइवान के अधिकारियों ने उनकी तलाश शुरू कर दी है. सभी लोग पर्यटन वीजा पर यहां आने के बाद से लापता हैं. खबरों के मुताबिक, हो सकता है वे यहां अवैध रूप से काम करने के लिए आए हों. यह पर्यटक दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया से ताइवान आने के लिये ज्यादा लोगों को आकर्षित करने के उद्देश्य से तीन साल पहले शुरू की गई एक पहल के तहत जारी वीजा पर यहां आए थे.

ताइवान की नेशनल इमीग्रेशन एजेंसी के मुताबिक, सप्ताहांत में दक्षिणी काओसुइंग शहर में कुल 153 वियतनामी नागरिक पहुंचे थे और इनमें से सिर्फ एक का पता चल सका है. एजेंसी ने एक बयान में कहा, ‘एजेंसी ने एक कार्यसमूह गठित किया है और यह पता लगाने के लिए पुलिस के साथ मिलकर काम कर रही है कि लापता पर्यटक कहां हैं और उनके पीछे किस समूह का हाथ है.’ 

स्थानीय मीडिया में कयास लगाए जा रहे हैं कि हो सकता है ये वियतनामी अवैध रूप से काम करने के लिये ताइवान आए हों. आव्रजन अधिकारियों ने कहा कि उन्हें प्रत्यर्पण और यहां आने पर तीन से पांच साल तक की पाबंदी झेलनी पड़ सकती है. पर्यटन ब्यूरो के मुताबिक, करीब 150 पर्यटक पहले भी इस कार्यक्रम के तहत लापता हो गए थे. हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि उनमें से कितनों का पता चला.
 



loading...