ताज़ा खबर

हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकी कानपुर में गिरफ्तार, गणेश चतुर्थी के जश्न में हमले की थी योजना

शैक्षणिक योग्यता पर कांग्रेस के आरोपों पर स्मृति ईरानी ने कहा- जितना मेरा अपमान करोगे, अमेठी में उतनी ही मेहनत करूंगी

Lok Sabha Election: पहले चरण के मतदान के बाद मायावती ने उठाया EVM का मुद्दा, बीजेपी पर लगाया गड़बड़ी करने के आरोप

रायबरेली से नामांकन के बाद सोनिया गांधी ने कहा- कोई अजेय नहीं, 2004 में वाजपेयी भी हारे थे

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अमेठी से किया नामांकन, सीएम योगी आदित्यनाथ भी रहे मौजूद

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर भीषण हादसा, ट्रक-कार की टक्कर में 8 की मौत

आज रायबरेली से नामांकन दाखिल करने से पहले रोड शो करेंगी सोनिया गांधी, प्रियंका वाड्रा और राहुल गांधी भी रहेंगे साथ

2018-09-13_terrorist-arrested-in-Kanpur.jpg

यूपी के आतंकवाद विरोधी दल (एटीएस) ने कानपुर में एक संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि संदिग्ध पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन का सदस्य है। इसे एटीएस की बड़ी कामयाबी माना जा रहा है, अभी संदिग्ध से पूछताछ की जा रही है। खुफिया एजेंसियों की रिपोर्टों के अनुसार पिछले कुछ दिनों में आंतकी संगठन सक्रिय हो गए हैं।

हिजबुल, लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकवादी संगठनों को पाकिस्तान की सेना और इंटर-सर्विसेज-इंटेलिजेंस से सक्रिय समर्थन प्राप्त हो रहा है। बताया जा रहा है कि गणेश चतुर्थी के दौरान कानपुर के एक मंदिर को निशाना बनाना की साजिश की जा रही थी।

प्रारम्भिक जांच में पता चला है कि गिरफ्तार किए गए आतंकी का नाम कमर-उज-जमां उर्फ डॉ हुरैहा है। खबरों की मानें तो आतंकी को हिजबुल ने रेकी करने के लिए भेजा था और इसके पास से कानपुर के एक मंदिर का वीडियो भी बरामद हुआ है।

एटीएस के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि कानपुर से हिजबुल मुजाहिदीन आतंकवादी को गिरफ्तार किया गया है। असम का रहने वाला कमर पढ़ा-लिखा है और विदेश में भी रह चुका है। कुछ समय पहले आतंकी कमर  ने सोशल मीडिया पर एके-47 के साथ अपनी फोटो शेयर की थी। मूल रूप से असम के नौगांव का रहने वाले कमर को हिजबुल ने बड़ी आतंकी वारदात की जिम्मेदारी सौंपी थी।



loading...