जेट एयरवेज पर गहराया संकट, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने नागर विमानन सचिव से मांगी रिपोर्ट

2019-04-12_JetAirways.jpg

नकदी संकट से जूझ रही जेट एयरवेज के यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा को लेकर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने अहम आदेश जारी किए हैं. सुरेश प्रभु ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि उन्होंने नागरियों की सुरक्षा व सुविधा के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव को जेट एयरवेज से संबंधित मुद्दों का रिव्यू करने को निर्देशित किया है. सुरेश प्रभु ने ट्वीट कर बताया है कि उन्होंने यात्रियों की सुविधा और सुरक्षा के लिए तत्काल सभी जरूरी कदम उठाने के निर्देश जारी किए हैं.

जेट एयरवेज का संकट गहराता जा रहा है. सिर्फ अंतरराष्ट्रीय उड़ानें ही नहीं, एयरलाइन ने बृहस्पतिवार को यह भी कहा कि पट्टा किराये का भुगतान नहीं करने से 10 और विमानों का परिचालन बंद हो गया है. इसके साथ परिचालन से बाहर होने वाले विमानों की संख्या 79 पहुंच गयी है. शुक्रवार को जेट एयरवेज के केवल 14 विमान परिचालन में रह गए हैं.

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज यानी बीएसई को दी सूचना में एयरलाइन ने कहा कि पट्टा समझौते के तहत पट्टे की बकाया राशि का भुगतान नहीं करने के कारण 10 अन्य विमानों का परिचालन बंद करना पड़ा है. कोष जुटाने में लगी जेट एयरवेज ने कहा कि वह अपने नेटवर्क पर बाधाओं को कम करने के लिये हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं. कंपनी के बयान के अनुसार, 'कंपनी इस संदर्भ में जरूरी जानकारी से नागर विमानन महानिदेशालय को अवगत कराती रहेगी.



loading...