मध्य प्रदेश में जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान सीएम शिवराज चौहान पर हमला, बाल-बाल बचे मुख्यमंत्री

मध्यप्रदेश में राहुल गांधी ने कहा- नोटबंदी भारत के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला

मध्यप्रदेश: विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी का बड़ा फैसला, 53 बागियों को पार्टी से किया निष्कासित

मध्यप्रदेश: कांग्रेस के विधायक सुंदरलाल तिवारी ने आरएसएस को बताया आतंकवादी संगठन

मध्यप्रदेश: विधानसभा चुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर बीजेपी में घमासान जारी, गोविंदपुरा से लड़ने पर अड़े बाबूलाल गौर

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी की 177 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, 3 मंत्रियों समेत कई विधायकों के टिकट काटे

मध्यप्रदेश: शिवराज सिंह चौहान ने कहा- अगर सरदार पटेल प्रधानमंत्री होते तो पाकिस्तान के पास कश्मीर का एक-तिहाई हिस्सा भी नहीं होता

2018-09-03_CmShivraj.jpg

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान निकले तो चुनाव प्रचार के लिए थे लेकिन उन्हें अंदाजा नहीं होगा कि कोई उनकी गाड़ी पर पत्थर भी फेंक सकता है. ऐसा ही कुछ हुआ सोमवार को जब शिवराज सिंह चौहान आगामी विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार करने के लिए बस से लोगों के बीच जा रहे थे.

इसी दौरान सिद्धी जिले के नजदीक चुरहट इलाके में कुछ लोगों ने शिवराज को काले झंडे दिखाए और उनकी गाड़ी पर पत्थर फेंके. हालांकि गनीमत रही कि पत्थर मुख्यमंत्री को नहीं लगा और वह सही सलामत हैं. चुरहट विधानसभा क्षेत्र से विपक्ष के नेता अजय सिंह चुनकर आते हैं. ऐसे में इस पर विवाद बढ़ रहा है कि आखिर विपक्ष के नेता के क्षेत्र में ही मुख्यमंत्री पर पत्थर क्यों फेंके गए.

अपनी जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान शिवराज सिंह चौहान इन दिनों पूरे मध्य प्रदेश का दौरा कर रहे हैं. पत्थर फेंकने और काले झंडे दिखाए जाने की घटना के बाद शिवराज ने एक सभा को भी संबोधित किया. चौहान ने विपक्ष के नेता अजय सिंह को चुनौती देते हुए कहा, अजय सिंह अगर आपमें हिम्म्त है तो आप खुलकर सामने आइए और मेरे से लड़िए, मैं शारीरिक रूप से आपसे कमजोर हूं लेकिन मैं आपकी इन हरकतों से डरने वाला नहीं हूं. प्रदेश की जनता मेरे साथ है.

हालांकि बाद में शिवराज ने एक प्रेस रिलीज जारी करते हुए इस घटना में किसी भी कांग्रेसी का हाथ होने से इनकार किया. शिवराज ने बाद में कहा कि उनकी पार्टी हिंसा की संस्कृति का समर्थन नहीं करती. शिवराज ने कहा कि उन्हें लगता है कि उनके खिलाफ ये एक सोची समझी साजिश की गई है.

इससे पहले अपनी यात्रा की शुरुआत में शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. चौहान ने कहा, कांग्रेस ने बीमारू राज्य छोड़ा था, उनको क्या समझ है, गांव नहीं देखे, गांव की गलियां नहीं देखीं. ना खेत जानते हैं, ना मिर्च जानते हैं ना प्याज, जमीन के नीचे होती है या ऊपर ये भी पता नहीं है उन्हें.



loading...