ताज़ा खबर

मध्य प्रदेश में जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान सीएम शिवराज चौहान पर हमला, बाल-बाल बचे मुख्यमंत्री

गौ-रक्षा के नाम पर हिंसा रोकने के लिए कमलनाथ सरकार ने उठाया बड़ा कदम, दोषी पाए जाने पर 5 साल की जेल और भारी जुर्माना लगेगा

मध्यप्रदेश: बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे और विधायक आकाश विजयवर्गीय की गुंडागर्दी, निगम अधिकारी को बैट से पीटा, Video वायरल

भोपाल के सरकारी अस्पताल में सीएम कमलनाथ ने कराई ट्रिगल फिंगर की सर्जरी, जनता से की ये अपील

महात्मा गांधी पर विवादित पोस्ट लिखने वाले मध्य प्रदेश भाजपा प्रवक्ता अनिल सौमित्र को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखाया

लोकसभा चुनाव 2019 की आखिरी रैली में बोले पीएम मोदी, ‘फिर एक बार मोदी सरकार, अबकी बार 300 पार’

MPBSE Result 2019: 10वीं और 12वीं के नतीजे घोषित, लड़कियों ने मारी बाजी

2018-09-03_CmShivraj.jpg

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान निकले तो चुनाव प्रचार के लिए थे लेकिन उन्हें अंदाजा नहीं होगा कि कोई उनकी गाड़ी पर पत्थर भी फेंक सकता है. ऐसा ही कुछ हुआ सोमवार को जब शिवराज सिंह चौहान आगामी विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार करने के लिए बस से लोगों के बीच जा रहे थे.

इसी दौरान सिद्धी जिले के नजदीक चुरहट इलाके में कुछ लोगों ने शिवराज को काले झंडे दिखाए और उनकी गाड़ी पर पत्थर फेंके. हालांकि गनीमत रही कि पत्थर मुख्यमंत्री को नहीं लगा और वह सही सलामत हैं. चुरहट विधानसभा क्षेत्र से विपक्ष के नेता अजय सिंह चुनकर आते हैं. ऐसे में इस पर विवाद बढ़ रहा है कि आखिर विपक्ष के नेता के क्षेत्र में ही मुख्यमंत्री पर पत्थर क्यों फेंके गए.

अपनी जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान शिवराज सिंह चौहान इन दिनों पूरे मध्य प्रदेश का दौरा कर रहे हैं. पत्थर फेंकने और काले झंडे दिखाए जाने की घटना के बाद शिवराज ने एक सभा को भी संबोधित किया. चौहान ने विपक्ष के नेता अजय सिंह को चुनौती देते हुए कहा, अजय सिंह अगर आपमें हिम्म्त है तो आप खुलकर सामने आइए और मेरे से लड़िए, मैं शारीरिक रूप से आपसे कमजोर हूं लेकिन मैं आपकी इन हरकतों से डरने वाला नहीं हूं. प्रदेश की जनता मेरे साथ है.

हालांकि बाद में शिवराज ने एक प्रेस रिलीज जारी करते हुए इस घटना में किसी भी कांग्रेसी का हाथ होने से इनकार किया. शिवराज ने बाद में कहा कि उनकी पार्टी हिंसा की संस्कृति का समर्थन नहीं करती. शिवराज ने कहा कि उन्हें लगता है कि उनके खिलाफ ये एक सोची समझी साजिश की गई है.

इससे पहले अपनी यात्रा की शुरुआत में शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. चौहान ने कहा, कांग्रेस ने बीमारू राज्य छोड़ा था, उनको क्या समझ है, गांव नहीं देखे, गांव की गलियां नहीं देखीं. ना खेत जानते हैं, ना मिर्च जानते हैं ना प्याज, जमीन के नीचे होती है या ऊपर ये भी पता नहीं है उन्हें.



loading...