मालेगांव बम धमाका केस में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की मुश्किलें बढ़ीं, NIA कोर्ट में हर हफ्ते होना होगा हाजिर

सलमान खान के बॉडीगार्ड शेरा ने थामा शिवसेना का दामन, आदित्य ठाकरे ने दिलाई पार्टी की सदस्यता

महाराष्ट्र: अमित शाह ने कहा- कांग्रेस कश्मीर से धारा 370 नहीं हटा पाई, मोदी जी ने यह कर दिखाया

महाराष्ट्र: पर्ली रैली में पीएम मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, बोले- कश्मीर जाना है तो मुझे बताएं, मैं करूंगा इंतजाम

PMC बैंक: पूर्व MD जॉय थॉमस को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया, सुरजीत सिंह अरोरा को पुलिस कस्टडी

महाराष्ट्र: उस्मानाबाद में चुनावी रैली के दौरान शिवसेना सांसद पर चाकू से हमला, हमलावर फरार

महाराष्ट्र: अकोला में बोले पीएम मोदी- आपका आशीर्वाद बना रहेगा तो मोदी नया-नया काम करता रहेगा

2019-06-03_SadhviPragya.jpg

साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर भले ही मध्यप्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट पर जीत हासिल कर सांसद बन गई हों, लेकिन इससे उनकी मुश्किलें कम नहीं हुई हैं. सोमवार को एनआईए की स्पेशल कोर्ट ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को सप्ताह में कम से कम एक बार अदालत में हाजिर होने का आदेश दिया है. आपको बता दें कि मालेगांव बम धमाके मामले में प्रज्ञा ठाकुर का नाम मुख्य आरोपी के तौर पर सामने आया था. उनके खिलाफ आतंकवाद और देशद्रोह का मामला दर्ज है, जिसकी जांच चल रही है.

इसी मामले की सुनवाई के लिए उन्हें सप्ताह में एक बार कोर्ट में हाजिर रहने को कहा गया है. वर्तमान में प्रज्ञा स्वास्थ्य कारणों से जमानत पर बाहर हैं. पिछले दिनों चुनाव के दौरान भी वो नाथूराम गोडसे पर अपने बयान को लेकर विवादों में घिरी रही थीं, जिसके बाद उन्हें माफी भी मांगनी पड़ी थी. 

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में प्रज्ञा सिंह ठाकुर भोपाल लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार थीं. उनका मुकाबला कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से था. प्रज्ञा ठाकुर ने दिग्विजय सिंह को भारी मतों से हराकर जीत हासिल की थी.



loading...