ताज़ा खबर

राहुल गांधी के बयान शिवराज सिंह के बेटे ने दर्ज कराया मानहानि का केस, कहा- पूरी कांग्रेस ही कंफ्यूज है

मध्यप्रदेश में राहुल गांधी ने कहा- नोटबंदी भारत के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला

मध्यप्रदेश: विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी का बड़ा फैसला, 53 बागियों को पार्टी से किया निष्कासित

मध्यप्रदेश: कांग्रेस के विधायक सुंदरलाल तिवारी ने आरएसएस को बताया आतंकवादी संगठन

मध्यप्रदेश: विधानसभा चुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर बीजेपी में घमासान जारी, गोविंदपुरा से लड़ने पर अड़े बाबूलाल गौर

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने जारी की 177 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, 3 मंत्रियों समेत कई विधायकों के टिकट काटे

मध्यप्रदेश: शिवराज सिंह चौहान ने कहा- अगर सरदार पटेल प्रधानमंत्री होते तो पाकिस्तान के पास कश्मीर का एक-तिहाई हिस्सा भी नहीं होता

2018-10-31_KartikeyChauhan.jpg

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय चौहान ने उनका नाम पनामा पेपर लीक मामले में घसीटने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ मंगलवार को भोपाल की एक अदालत में मानहानि का मामला दर्ज कराया है. कार्तिकेय ने अतिरिक्त जिला न्यायाधीश सुरेश सिंह की विशेष अदालत में दायर मानहानि के मामले में आरोप लगाया कि राहुल ने उन्हें तथा उनके परिवार को बदनाम करने के लिए जान-बूझकर यह बयान दिया है. राहुल के खिलाफ भारतीय दंड़ संहिता की धारा 499 एवं 500 के तहत आपराधिक मानहानि का मामला दर्ज किया गया है.

कोर्ट में इस मामले में कार्तिकेय के बयान दर्ज करने के लिए अगली सुनवाई तीन नवंबर को तय की है. कार्तिकेय के वकील शिरीश श्रीवास्तव ने कहा, जब वह (कांग्रेस) मुख्यमंत्री की लोकप्रियता को रोकने में असफल हो गए, तो उन्होंने चौहान और उसके परिजन को बदनाम करने के लिए जान-बूझकर ऐसा बयान दिया. अब वह मुख्यमंत्री एवं उनके बच्चों पर आरोप लगा रहे हैं. स्पष्ट रूप से यह इरादतन बयान था. यह पूर्व नियोजित बयान था. सोमवार की रात कार्तिकेय ने ट्विटर पर लिखा, ‘राहुल गांधीजी ने मेरे ‘पनामा पेपर्स’ में संलिप्त होने का झूठा बयान दिया है. मैं व्यथित हूँ कि बचपने की आड़ में सार्वजनिक मंच से मेरी व मेरे परिवार की प्रतिष्ठा खंडित की गई है. यदि 48 घंटे में उन्होंने माफी नहीं मांगी तो मैं उन पर कठोरतम कानूनी कार्रवाई के लिए बाध्य हो जाउंगा.’

मुख्यमंत्री चौहान पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल ने सोमवार को मध्यप्रदेश के झाबुआ में कहा था, ‘मामाजी के जो बेटे हैं, उनका नाम पनामा के पेपरों में निकलता है. इन दस्तावेजों में पाकिस्तान के (पूर्व) प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का नाम भी सामने आया था. इस पर पाकिस्तान जैसे देश में शरीफ को जेल में डाल दिया गया था. मगर यहां मुख्यमंत्री के बेटे पर पनामा पेपर मामले में कोई कार्रवाई नहीं होती.’ हालांकि, राहुल ने इस बारे में ज्यादा विस्तृत विवरण नहीं दिया था.

कार्तिकेय चौहान ने बाद में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, राहुल गांधी ने एक बार फिर बयान दिया है कि वह कन्फ्यूज हैं. कांग्रेस पार्टी भी पूरी तरह कन्फ्यूज है. राहुल गांधी कन्फ्यूज हैं. यहां पर उनके कार्यकर्ता कन्फ्यूज हैं. जो चुनावों में लोगों को टिकट दे रहे हैं, वह भी कन्फ्यूज हैं.

मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राहुल कल झाबुआ में अपनी पार्टी के लिए चुनाव प्रचार अभियान में आए थे और गफ़लत में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के बेटे का नाम है पनामा पेपर्स में’ कहने की बजाय ‘मध्यप्रदेश के मामा (मुख्यमंत्री) के बेटे का नाम पनामा पेपर्स में’ है बोल गए थे. मंगलवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने सफाई देते हुए कहा कि 'बीजेपी में इतना भ्रष्टाचार है कि मैं कन्फ्यूज हो गया था. मध्य प्रदेश के सीएम ने पनामा नहीं बल्कि उन्होंने तो व्यापमं और ई-टेंडरिंग घोटाला किया है.'



loading...