देशद्रोह मामले में शेहला राशिद को पटियाला हाउस कोर्ट से राहत, 5 नवम्बर तक गिरफ्तारी पर रोक

2019-09-10_ShehlaRashid.jpeg

जेएनयू की पूर्व छात्रा शेहला रशीद को पटियाला हाउस कोर्ट से राहत मिल गई है. शेहला की गिरफ्तारी पर कोर्ट ने  5 नवंबर तक रोक लगा दी है. दिल्ली पुलिस ने इस मामले में अपना जवाब दाखिल करने के लिए 6 हफ्ते का वक्त मांगा है. इस मामले में अगली सुनवाई 5 नवंबर को होगी. शेहला राशिद के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के वकील अलख आलोक श्रीवास्तव की शिकायत पर पिछले दिनों दिल्ली पुलिस ने देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया था.

शिकायत में आरोप लगाया गया था है कि शेहला ने अपने ट्वीट्स के जरिये भारतीय सेना पर निराधार आरोप लगाए हैं. शेहला ने अंतराष्ट्रीय स्तर पर देश की छवि धूमिल करने की कोशिश की है. ऐसे में उसके खिलाफ देशद्रोह और समुदाय के बीच वैमनस्य फैलाने के आरोप में FIR दर्ज कर कार्रवाई होनी चाहिए. इस मामले में पुलिस का कहना है कि जांच शुरुआती स्टेज में है. अभी शेहला को नोटिस भी जारी नहीं किया गया है. पुलिस ने शिकायत की जांच के लिए 6 हफ्ते का वक्त मांगा है.

18 अगस्‍त को शेहला राशिद ने रात में कश्‍मीर के लोगों के घरों में घुसने, गैर-कानूनी रूप से लड़कों को उठाने, घरों में छानबीन करने, रखे चावल में तेल मिलाने, शोपियां में कश्‍मीरी लड़कों को बंधक बनाकर दहशत फैलाने के आरोप भारतीय सेना पर लगाए थे. शेहला ने जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाने को लेकर कई ट्वीट किए थे, जिससे सोशल मीडिया पर काफी बवाल मचा था.
 



loading...