10 साल की रेप विक्टिम को SC ने नहीं दी अबॉर्शन की इजाजत

2017-07-29_supreme87.jpeg

शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक फैसले में 10 साल की रेप विक्टिम को अबॉर्शन की इजाजत देने से इनकार कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने फैसले में कहा कि मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट में कहा गया है कि अबॉर्शन मां और बच्चे दोनों के लिए ठीक नहीं है. अबॉर्शन करने के लिए अब काफी देर हो चुकी है. बता दें कि रेप विक्टिम को 32 हफ्ते की प्रेग्नेंसी है.

जानकारी के मुताबिक , जस्टिस जेएस खेहर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने PGI चंडीगढ़ की रिपोर्ट पर ये फैसला लिया. हालांकि, बेंच ने बच्ची के मेडिकल केयर पर संतोष जाहिर किया. कोर्ट ने PGI को रेप विक्टिम की जांच और अबॉर्शन के नतीजों पर रिपोर्ट देने को कहा था.

सुप्रीम कोर्ट ने सॉलिसीटर जनरल रंजीत कुमार से कहा कि हर स्टेट में एक पर्मानेंट मेडिकल बोर्ड बनाया जाए ताकि इस तरह के मामलों पर सही फैसला लिया जा सके. अबॉर्शन से जुड़े मामले काफी संख्या में सुप्रीम कोर्ट तक आ रहे हैं.



loading...