कर्नाटक संकट: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, स्पीकर बागी विधायकों के इस्तीफे पर लें फैसला

2019-07-17_SC.jpg

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के 15 बागी विधायकों की याचिका पर बुधवार को अपना फैसला सुना दिया है. फैसले में कोर्ट ने कहा है कि विधानसभा स्पीकर विधायकों के इस्तीफों पर फैसला लें. लेकिन स्पीकर पर किसी समय-सीमा में फैसला लेने के लिए दबाव नहीं डाला जाएगा. साथ ही विधायकों को भी विधानसभा में मौजूद रहने के लिए मजबूर नहीं किया जाएगा.

आपको बता दें इस फैसले से 14 महीने पहले बनी कुमारस्वामी सरकार को तगड़ा झटका लगा है. विधायकों द्वारा दायर इस याचिका में कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष को कांग्रेस-जद (एस) के बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार करने की मांग की गई थी.

इस मामले में मंगलवार को कोर्ट ने सभी पक्षों की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था. हालांकि कुमारस्वामी और विधानसभा अध्यक्ष ने बागी विधायकों की याचिका पर विचार करने के सुप्रीम कोर्ट के अधिकार पर सवाल उठाए हैं. वहीं बागी विधायक विधानसभा अध्यक्ष आर रमेश कुमार पर आरोप लगा रहे हैं कि वह बहुमत खो चुकी सरकार को सहारा देने की कोशिश कर रहे हैं. 

बागी विधायकों की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने पीठ से अनुरोध किया कि इस्तीफे और अयोग्यता के मुद्दे पर यथास्थिति बनाए रखने का स्पीकर को निर्देश देने संबंधी अंतरिम आदेश जारी रखा जाएगा. रोहतगी ने कहा कि अगर विधानसभा की कार्यवाही होती है तो इन विधायकों को व्हिप के आधार पर सदन में उपस्थित रहने से छूट दी जानी चाहिए क्योंकि मौजूदा सरकार अल्पमत में हैं. 

मुख्यमंत्री की ओर से पेश वरिष्ठ वकील राजीव धवन ने कहा कि बागी विधायक सरकार को गिराना चाहते हैं. ये विधायक चाहते हैं स्पीकर के अधिकारों के मामले में अदालत दखल दे.



loading...