सऊदी अरब: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर बुर्का पहनकर दौड़ी महिलाएं

आतंकवादी बुरहान वानी को पाकिस्तान ने बताया फ्रीडम आइकॉन, जारी किया डाक टिकट

ऑस्ट्रेलिया में स्ट्रॉबेरी को खाने से डर रहे है लोग, 6 राज्यों में रुकी बिक्री, जानिए- क्या हैं कारण

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पीएम मोदी को लिखा खत, फिर से शुरू करना चाहते हैं शांति वार्ता

भ्रष्टाचार के मामले में जेल में बंद नवाज शरीफ, बेटी और दामाद को बड़ी राहत, इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने सजा पर लगाई रोक

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में लोग अपने पसंदीदी फल स्ट्रॉबेरी को खाने से डर रहे हैं जानिए- क्या हैं कारण

जर्मनी में दौड़ने लगी पानी से चलने वाली ट्रेन, धुएं की जगह निकलता है भाप और पानी

2018-03-10_saudi-arabia.jpg

सऊदी अरब में बदलाव की बयार चल रही है. सऊदी में  जेद्दा की सड़कों पर गुरुवार को एक अद्भुत नजारा देखने को मिला. यहां महिला दिवस को कुछ महिलाओं ने सड़कों पर दौड़कर मनाया. इस दौड़ को एक बदलाव के रूप में भी देखा जा सकता है. खास बात ये रही कि इस मैराथन में बुर्का पहनकर ही महिलाओं ने दौड़ लगाई.बता दें कि इससे पहले महिलाओं को इस तरह के  विशेषाधिकार नहीं दिए गए थे.

बता दें कि इससे पहले रविवार को सऊदी में पहली बार महिलाओं के लिए मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया. इसे सऊदी अरब के आधुनिकीकरण और खेलों के लिए महिलाओं को प्रोत्साहन देने के लिए एक अहम कदम माना जा रहा है. स्थानीय मीडिया के मुताबिक रविवार को यहां के अल-अहसा प्रांत में आयोजित इस दौड़ में सैकड़ों महिलाओं ने हिस्सा लिया. इनमें से कई महिलाओं ने पारंपरिक इस्लामी पोशाक में ही दौड़ लगाई.

मैराथन की देखरेख कर रहे मलिक अल-मूसा के हवाले से अल-अरेबिया न्यूज ने बताया कि सभी को दौड़ने के लिए प्रोत्साहित करने और उनमें खेल के प्रति रुचि जगाने के लिए यह दौड़ आयोजित की गई थी. इससे पहले फरवरी में सऊदी अरब की राजधानी रियाद में पहली अंतरराष्ट्रीय हाफ-मैराथन दौड़ आयोजित की गई थी.

हाल के समय में रूढ़ीवादी परंपराओं को तोड़ते हुए सऊदी अरब में कुछ महिलाओं के पक्ष में फैसले लिए गए जिसमें महिलाओं पर ड्राइविंग प्रतिबंध हटाना, पुरुष फुटबॉल मैच देखने के लिए स्टेडियम में प्रवेश करने की इजाजत और सऊदी हवाईअड्डे पर हवाई यातायात नियंत्रण में महिलाओं के लिए 140 नौकरियां निकालने जैसे फैसले शामिल हैं.

,


loading...