नुआपाड़ा उपचुनाव: बीजेपी प्रत्याशी ने बदला पाला, कहा- मैं ममता की सिपाही

2018-01-08_bjp-logo-bypolls.jpg

पश्चिम बंगाल के नोआपाड़ा विधानसभा उपचुनाव से पहले भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई को जबरदस्त झटका लगा है. भाजपा की प्रत्याशी तृणमूल कांग्रेस की पूर्व विधायक मंजू बसु ने उसका पाला छोड़ कर तृणमूल का दामन थाम लिया है. भाजपा के केन्द्रीय नेतृत्व ने कल शाम उपचुनाव के लिए पार्टी के प्रत्याशी के रूप में मंजू बसु के नाम की घोषणा की थी, इसके कुछ घंटों के बाद, मंजू ने संवाददाताओं को बताया कि वह अभी भी तृणमूल कांग्रेस के साथ हैं.

मंजू ने कहा कि मैं तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी की एक वफादार सिपाही हूं. मैं अभी भी तृणमूल के साथ हूं और ममता बनर्जी में मेरा पूरा विश्वास है. भाजपा के सूत्रों ने बताया कि मंजू ने पार्टी के टोल-फ्री नंबर पर सदस्यता के लिए मिस्ड कॉल किया था. उनके पार्टी से जुड़ने के बारे में कोई अधिकारिक घोषणा नहीं की गयी थी.

तृणमूल के टिकट पर नोआपाड़ा से दो बार विधायक रही मंजू ने मामले पर ज्यादा कुछ नहीं कहा. बस इतना बताया कि भाजपा के प्रस्ताव को खारिज करने का यह उनका निजी निर्णय है. उन्होंने कहा कि आपको कई राजनीतिक दलों से प्रस्ताव मिल सकते हैं. लेकिन इसे स्वीकार करने या नहीं करने का फैसला आपका व्यक्तिगत होता है. कुछ महीनों पहले कांग्रेसी विधायक मधुसूदन घोष के निधन के चलते नोआपाड़ा विधानसभा सीट खाली हुयी थी. यहां उपचुनाव 29 जनवरी को होने वाला है और मतगणना एक फरवरी को होगी.

 मंजू बसु के पाला बदलने के बाद बीजेपी ने यहां से संदीप बनर्जी को टिकट दिया है. इसके अलावा अनुपम मलिक उलुबेरिया से टिकट दिया गया है.



loading...