माइनस 38 डिग्री सेल्सियस में बिकीनी पहनकर बर्फ के पानी में उतरे लोग

2018-01-27_Cryophile-winter-1.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-2.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-3.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-4.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-5.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-6.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-7.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-8.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-9.jpg 2018-01-27_Cryophile-winter-10.jpg

दुनिया की सबसे ठंडी जगह साइबेरिया में इस बार रिकॉर्डतोड़ ठंड पड़ रही है. लगातार लुढ़कते पारे की वजह से थर्मामीटर भी जवाब देकर टूट गया है. यहां की ठंड का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं, कि बाहर निकलते ही लोगों की पलकों पर बर्फ जम जा रही है. यहां पर तापमान माइनस 60 डिग्री के नीचे पहुंच गया है. लगातार लुढ़कते पारे के बीच स्कूलों में छुट्टी कर दी गई है.

वहीं दूसरी तरफ ठंड का लुत्फ उठाते हुए Cryophile में हसीनाएं बिकिनी पहनकर माइनस 38 डिग्री सेल्सियस में बर्फ के मजे ले रही हैं. इनको देखकर कहीं से नहीं लग रहा कि ठंड का असर इनपर हो रहा है.

जवान लोगों के अलावा बच्चे और बूढ़े भी बर्फ के मजे ले रहे हैं. इनमे से कुछ लोगों ने बताया कि बर्फ के पानी में रोज नहाने से उनके स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है. कुछ लोगों ने कहा ठंडे पानी में नहाने से हमारी रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है और बीमीरियों से छूटकारा मिलता है.

बता दें कि दुनिया की सबसे सर्द जगह का नाम ओइमाकॉन है. यह रूस के साइबेरिया में बर्फ की घाटी में बसा एक छोटा सा गांव है. जनवरी के महीने में यहां औसत तापमान माइनस 50 डिग्री के आसपास रहता है. यहां पर सबसे कम तापमान 71.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. यह स्थान इतना ठंडा होने के कारण इसे पोल ऑफ कोल्ड यानी ठंडा ध्रुव भी कहा जाता है.



loading...