ताज़ा खबर

कांग्रेस वर्किंग कमेटी ने लिया फैसला, जारी किया नोटिफिकेशन

कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा- अच्छा हिंदू नहीं चाहता अयोध्या में राम मंदिर बने, सुब्रमण्यम स्वामी ने कह दिया नीच आदमी

#MeToo: लपेटे में आए केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने प्रिया रमानी के खिलाफ दर्ज कराया मानहानि का केस

#MeToo: लपेटे में आए केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर को इस्तीफा देने का आदेश दे सकती हैं बीजेपी

पीएम मोदी ने पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों पर वित्त मंत्री अरुण जेटली और अन्य वरिष्ठ मंत्रियों संग की बैठक

पीएम मोदी 31 अक्तूबर को करेंगे सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ का अनावरण

CJI रंजन गोगोई का नया फैसला, वर्किंग-डे पर जजों की छुट्टी पर लगाया बैन

2017-11-20_rahul-gandhi-sonia-gandhi-cwc.jpg

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की ताजपोशी की तैयारियां तेज हो गई हैं. इसी सिलसिले में कांग्रेस वर्किंग कमेटी की आज सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ पर अहम बैठक हुई. ये बैठक करीब एक घंटे चली और इसमें राहुल को कांग्रेस का नया अध्यक्ष बनाए जाने के लिए रेजोल्यूशन पास हुआ। साथ ही इलेक्शन का शेड्यूल भी जारी किया गया। इसके मुताबिक, 16 दिसंबर को वोटिंग होगी और नतीजों का एलान 19 को होगा। मीटिंग में सोनिया-राहुल समेत मनमोहन सिंह, गुलाम नबी आजाद, पी. चिदंबरम, सुशील कुमार शिंदे जैसे कई सीनियर लीडर मौजूद रहे।

कांग्रेस प्रेसिडेंट इलेक्शन के लिए 1 दिसंबर को नोटिफिकेशन जारी होगा। 4 दिसंबर से नॉमिनेशन फाइल होंगे। 16 दिसंबर को वोटिंग और 19 दिसंबर को नजीतों का एलान होगा। वर्किंग कमेटी की मीटिंग में राहुल गांधी को पार्टी प्रेसिडेंट बनाने के लिए रेजोल्यूशन भी पास हुआ।

हालांकि, शनिवार को जनार्दन द्विवेदी ने कहा था, "अगर प्रेसिडेंट पोस्ट के लिए केवल एक नॉमिनेशन फाइल हुआ तो नॉमिनेशन वापस लेने की तारीख को ही प्रेसिडेंट के लिए चुने गए शख्स के नाम का एलान कर देंगे।"

6 नवंबर को हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी में राहुल गांधी को प्रेसिडेंट बनाने की सिफारिश की गई थी। राहुल गांधी के उपाध्यक्ष बनने के करीब चार साल बाद पहली बार कांग्रेस वर्किंग कमेटी ने एक सुर से उन्हें पार्टी प्रेसिडेंट बनाने की सिफारिश की थी। CWC की मीटिंग में नेताओं ने कहा कि राहुल को अब पार्टी की कमान संभालनी चाहिए।

1998 से पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी की गैर-मौजूदगी में हुई इस मीटिंग की पहली बार खुद राहुल ने अध्यक्षता की। इस दौरान राहुल ने कहा, ''मैं जिम्मेदारी लेने को तैयार हूं, किसी के मन में संदेह हो तो प्लीज अभी बताएं...।''

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता अंबिका सोनी ने कहा कि गुजरात में कांग्रेस के चुनाव प्रचार की सफलता और नोटबंदी, जीएसटी जैसे मुद्दों पर सरकार के खिलाफ माहौल बनाने का श्रेय राहुल गांधी को जाता है. वहीं, गुलाम नबी आजाद ने कहा कि राहुल गांधी ने हमेशा आगे बढ़कर नेतृत्व किया है. कुछ ही दिनों की बात है कांग्रेस को नया अध्यक्ष मिल जाएगा.

, ,


loading...