रेवाड़ी गैंगरेप केस में पुलिस ने मुख्य आरोपी निशु फोगाट को किया गिरफ्तार, SP राजेश दुग्गल का तबादला

Haryana Board 10th Result: झज्जर के हिमांशु ने किया टॉप, यहां देखें अपना परिणाम

हरियाणा के सिरसा राहुल गांधी ने कहा- मोदी के नकली वादे कभी पूरे नहीं होंगे, लेकिन हमारे 72 हजार जरुर आयेंगे

नवजोत सिंह सिद्धू पर रोहतक की रैली में महिला ने फेंकी चप्पल, पुलिस ने हिरासत में लिया

लोकसभा चुनाव: फतेहाबाद के बाद कुरुक्षेत्र में पीएम मोदी ने कहा- मुझे एक से एक गाली दे रहे कांग्रेस के लोग, जवानों के खून का दलाल कहा गया

लोकसभा चुनाव: हरियाणा के फतेहाबाद में पीएम मोदी ने कहा- आपको जमीन हड़पने वालों को जेल भेजकर रहूंगा

हरियाणा के अंबाला में प्रियंका गांधी वाड्रा ने दुर्योधन से की पीएम मोदी की तुलना, कहा- मेरे शहीद पिता का अपमान बर्दास्त नहीं

2018-09-17_revarirapecase.jpg

रेवाड़ी की 19 साल की टॉपर छात्रा से गैंगरेप का मुख्य आरोपी निशु फोगाट को पुलिस ने रविवार शाम को सोनीपत के रिठाला की सूरज स्पोर्ट्स एकेडमी से गिरफ्तार कर लिया. वह दो दिन से यहां कबड्‌डी की कोचिंग ले रहा था. दो आरोपी अभी भी फरार हैं. पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने इस वारदात को अंजाम देने के लिए पहले से साजिश रची थी. छात्रा के साथ बुधवार को रेवाड़ी के पास महेंद्रगढ़ में गैंगरेप किया गया था.

एसपी नाजीन भसीन ने कहा, दो अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीमें जगह-जगह तलाशी ले रही हैं. पुलिस ने रविवार को इन आरोपियों की मदद करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया था. इनमें एक डॉक्टर भी शामिल है. भसीन ने बताया कि जिस जगह पर गैंगरेप किया गया, उस जगह के मालिक दीन दयाल को गिरफ्तार किया गया है. डॉक्टर के खिलाफ हमारे पास पर्याप्त सबूत हैं. उन्होंने बताया कि निशु ने गैंगरेप के बाद छात्रा के इलाज के लिए डॉक्टर संजीव को घटनास्थल पर बुलाया था.

बुधवार को छात्रा कोचिंग के लिए रेवाड़ी से कनीना आई थी. तभी उसका अपहरण कर लिया गया और महेंद्रगढ़ ले गए. बाद में छात्रा को कनीना बस स्टैंड के पास बेहोशी की हालत में छोड़ गए थे. छात्रा के पिता का आरोप है कि बेटी के साथ आठ से दस लोगों ने रेप किया.

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा रविवार को छात्रा से मिलने अस्पताल पहुंचे तो परिजनों ने गेट बंद कर दिया. परिवार वालों ने कहा कि वह अभी डिप्रेशन में है. किसी से मिलना नहीं चाहती. भीड़ में धक्का-मुक्की हुई तो हुड्‌डा गुस्सा हो गए.

पीड़िता की मां ने आरोपियों को फांसी पर लटकाने की मांग करते हुए जिला प्रशासन द्वारा दिए गए 2 लाख रुपए के चेक को लौटा दिया. उन्होंने कहा, हमें चेक की जरूरत नहीं न्याय की जरुरत है.



loading...