RBI का तोहफा: रेपो रेट 0.25 फीसदी घटा, होमलोन और कार लोन की EMI होगी कम

2019-04-04_RBIRepoRate.jpg

भारतीय रिजर्व बैंक ने नए वित्तीय वर्ष की पहली मौद्रिक समीक्षा नीति की घोषणा कर दी है. आरबीआई ने रेपो रेट में 25 बीपीएस प्वाइंट की कटौती की घोषणा कर दी है. इससे अब लोगों की ईएमआई में कमी होने की संभावना है. आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने इस बात का एलान किया. अब रेपो रेट 6.25 फीसदी से घटकर 6 फीसदी हो गया है. वहीं रिवर्स रेपो रेट 5.75 फीसदी हो गया है.

जिन लोन की ईएमआई पर असर पड़ेगा उनमें होम, कार, पर्सनल, एजूकेशन है. विशेषज्ञों का कहना है कि इस समय अर्थव्यवस्था के जो हालात हैं, उसमें रेपो रेट की कटौती होना तय था.

इससे पहले, बीते फरवरी में रिजर्व बैंक ने रेपो दर में चौथाई फीसदी की कमी की थी जो कि पिछले डेढ़ साल में पहली कटौती थी. ज्ञातव्य है कि केंद्रीय बैंक द्वारा वाणिज्यिक बैंकों को अल्पावधि ऋण जिस ब्याज दर पर मुहैया करवाया जाता है उसे रेपो रेट कहते हैं. आरबीआई गवर्नर पहले ही शेयरधारकों, औद्योगिक निकायों, जमा संगठनों, बैंकर और एमएसएमई प्रतिनिधियों से मुलाकात कर उनका पक्ष ले चुके हैं.
 



loading...