RBI का डिजिटल पेमेंट करने वालों को बड़ा तोहफा, फेल ट्रांजैक्शन रिफंड में देरी होने पर मिलेगा हर्जाना

2019-09-21_DigitalPayment.jpg

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने डिजिटल पेमेंट करने वालों को बड़ी राहत देने की घोषणा की है. आरबीआई ने कहा है कि मोबाइल एप, पीओएस, यूपीआई. एटीएम और क्रेडिट कार्ट से पेमेंट पर अगर ट्रांजैक्शन फेल हो जाता है और ग्राहक के रुपये कट जाते हैं तो एक निश्चित तय सीमा के अंदर ही उन्हें वापसी की जाएगी. आरबीआई ने इसके लिए बैंकों को कड़े निर्देश भी दिए हैं. इसके साथ ही आरबीआई ने यह भी कहा है कि अगर बैंक कस्टमर्स को तय सीमा के अंदर पैसों की वापसी नहीं कर पाते तो बैंकों को हर्जाना भी देना होगा.

सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार अगर तय सीमा के अंदर ग्राहकों को पैसे वापस नहीं मिलते तो ग्राहकों को प्रति दिन के हिसाब से 100 रुपये हर्जाने के रूप में मिलेंगे. ऐसा भी माना जा रहा है कि आरबीआई ने अपने निर्देश में बैंकों को यह भी कहा कि उन्हें ट्रांजैक्शन फेल होने पर कस्टमर्स की कंपलेन के इंतजार के बिना ही पैसे तुरंत वापस करने होंगे. RBI इसके लिए बैंकों को निर्देश भी जारी कर दिए हैं. अगर बैंक जल्द से जल्द इन नियमों का पालन करते हैं तो डिजिटल पेंमेंट में ग्राहकों को बहुत बड़ी सहूलियत मिल जाएगी.

ATM ट्रांजेक्शन-
– एटीएम (ATM) ट्रांजेक्शन में खाते से पैसे कटे लेकिन कैश नहीं निकला
– ट्रांजेक्शन के बाद से 5 दिन में खाते में पैसा वापस लौटाना होगा
– 5 दिन (T+5) से ज्यादा वक्त लगा तो ग्राहक को हर्जाना मिलेगा
– हर रोज 100 रुपए के हिसाब से ग्राहक को हर्जाना देने का निर्देश

UPI से फंड ट्रांसफर-
– खाते से पैसे कटे लेकिन जिसे भेजा गया उसके खाते में नहीं पहुंचे
– ऐसे में ट्रांजेक्शन के 1 दिन (T+1) के भीतर रकम वापसी जरूरी
– बैंक ऐसा नहीं कर पाए तो दूसरे दिन से 100 रुपए रोजाना हर्जाना मिलेगा

UPI से मर्चेंट पेमेंट-
– खाते से रकम कटी पर मर्चेंट तक नहीं पहुंची तो T+5 दिन में रिवर्सल
– तय मियाद में ऑटो रिवर्सल नहीं तो 100 रुपए रोजाना हर्जाना देना होगा

कार्ड टू कार्ड ट्रांसफर-

– एक कार्ड से डेबिट हुआ लेकिन दूसरे कार्ड मे रकम ट्रांसफर नहीं हुई
– ऐसे में ट्रांजेक्शन के बाद अधिकतम 1 दिन (T+1) में रिवर्सल
– ट्रांजेक्शन के बाद दूसरे दिन से 100 रुपए रोजाना हर्जाना लगेगा

PoS से ट्रांजेक्शन-
– खाते से पैसे कटे लेकिन मर्चेंट को रकम का कंफर्मेशन नहीं आया
– ऐसे में ट्रांजेक्शन के 5 दिन (T+5) के भीतर कटे रकम की वापसी
– ट्रांजेक्शन के बाद छठवें (6th) दिन से 100 रुपए रोजाना का ग्राहक को हर्जाना



loading...