ताज़ा खबर

चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू यादव को नहीं मिली जमानत, रांची हाईकोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला

लोकसभा चुनाव: बिहार में एनडीए ने तय किए उम्मीदवारों के नाम, गिरिराज सिंह की सीट बदली, शत्रुघ्न सिन्हा का टिकट कटा

लोकसभा चुनाव: बिहार महागठबंधन में हुआ सीटों का बंटवारा, RJD को 20 तो कांग्रेस को मिलीं 9 सीटें, गया सीट से जीतनराम मांझी होंगे उम्मीदवार

लोकसभा चुनाव: बिहार में एनडीए में तय हुआ सीटों का बंटवारा, BJP ने अपनी 6 सीटें छोड़ी

लोकसभा चुनाव: बिहार में मायावती ने महागठबंधन से किया किनारा, सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारेगी BSP

बिहार के गया में प्रेमी जोड़े ने जान देकर चुकाई प्यार की कीमत, पुलिस ने दोषियों को किया गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर शेल्टर केस में नागेशवर राव पर अवमानना के आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने लगाया 1 लाख का जुर्माना, दिनभर कोर्टरूम के कमरे रहेंगे बैठे

2019-01-04_LaluYadav.jpg

रांची हाईकोर्ट ने लालू यादव की जमानत पर फैसला सुरक्षित रख लिया है. चारा घोटाले में सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के लिए आज बेहद अहम माना जा रहा था. इसकी वजह हाईकोर्ट में उनकी जमानत याचिका पर हो रही सुनवाई थी. कोर्ट में लालू की तरफ से बढ़ती उम्र और सेहत को वजह बताते जमानत देने की बात कही गई है. कोर्ट में लालू की तरफ से कांग्रेस के नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल पैरवी कर रहे हैं.

बेहतर इलाज कराने के लिए लालू की तरफ से कोर्ट से जमानत देने की बात कही गई है. पिछली बार 21 दिसंबर को सीबीआई के निवेदन पर कोर्ट ने जमानत याचिका पर सुनवाई टालकर 4 जनवरी की तारीख तय दी थी. लालू फिलहाल रांची के रिम्स में अपना इलाज करा रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक लालू डायबीटिज, क्रॉनिक किडनी और हार्ट समेत करीब 11 गंभीर बीमारियों का इलाज करा रहे हैं.

आपको बता दें कि देवघर कोषागार मामला (आरसी 64 ए/96) में लालू को छह जनवरी 2018 को साढ़े तीन साल की सजा सुनाई गई. चाईबासा कोषागार मामला (आरसी 68 ए/96) में कोर्ट ने लालू को 24 जनवरी 2018 को पांच साल की सजा दी. दुमका कोषागार मामला (आरसी 38 ए/96) में 24 मार्च 2018 को लालू को सात साल की सजा सुनाई गई थी.



loading...