यूपी: रामपुर में फांसीघर की जमीन कब्जाने के आरोप में आजम खान के बड़े बेटे समेत 37 लोगों पर केस दर्ज

2019-09-20_AzamKhan.jpg

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और रामपुर से सांसद आजम खान की मुसीबतें बढ़ गई है. अब उनके बड़े बेटे अदीब आजम खान समेत 37 लोगों के खिलाफ जमीन कब्जाने के आरोप लगने पर मुकदमा दर्ज किया गया है. यह मामला जेल के पीछे स्थित फांसीघर की जमीन का है. कुछ दिन पहले भारतीय जनता पार्टी के नेता आकाश सक्सेना की शिकायत पर जिलाधिकारी ने जांच बैठाई थी. जांच के बाद आज गंज कोतवाली में यह मुकदमा दर्ज किया गया है. एफआईआर में धारा 420, 447 के अलावा सार्वजनिक संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम 1984 की धारा 3(2)ख लगाई गई है.

रामपुर के अपर जिला अधिकारी जे पी गुप्ता ने बताया की गाटा संख्या 7 और 8 की भूमि जो जेल प्रशासन की है, उसको बेचा और खरीदा गया. लगभग 30 लोगों के बीच जमीन को बेचा और खरीदा गया. उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है. इस जमीन को बेचने और खरीदने का किसी को अधिकार नहीं है. क्योंकि यह शासकीय भूमि है.

बीजपी नेता आकाश सक्सेना ने बताया कि खसरा संख्या 512 से 519 तक यह जमीन रामपुर जेल के फांसी घर नाम से दर्ज है. एक समय में यहां फांसीघर हुआ करता था. आरोप है कि आजम खान ने इसे अपने बड़े बेटे अदीब आजम खान के नाम करवाया था. इसकी शिकायत करने पर आजम अदीब आज़म खान के साथ 30 से ज़्यादा लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है.
 



loading...