ताज़ा खबर

तेज हवाओं और बारिश से दिल्ली-NCR में बढ़ी ठंड, कई इलाकों में छाया घना अंधेरा

चुनाव आयोग का PM मोदी की बायोपिक पर रोक लगाने के बाद निर्माताओं ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

सेना के राजनीतिक इस्तेमाल को लेकर राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखने की खबर का पूर्व सैन्य अधिकारियों ने किया खंडन

PM मोदी के नाम एक और उपलब्धि, रूस ने दिया अपना सर्वोच्‍च नागरिक सम्‍मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयूज’

राफेल मामले में राहुल गांधी के बयान के खिलाफ बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की अवमानना याचिका

जेट एयरवेज पर गहराया संकट, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने नागर विमानन सचिव से मांगी रिपोर्ट

सुप्रीम कोर्ट का चुनावी बॉन्ड पर बड़ा फैसला, 30 मई तक सभी राजनीतिक दलों को चंदे की जानकारी देने के दिए निर्देश

2019-02-07_Rainfall.jpg

हिमाचल प्रदेश-उत्तराखंड और जम्मू के कई इलाकों में बुधवार को जमकर बर्फबारी हुई. आज भी भारी बर्फबारी के आसार हैं. वहीं दिल्ली-एनसीआर में भी सुबह-सुबह बारिश हुई, कई इलाकों में ओलावृष्टि भी हुई है. इसके अलावा मध्य प्रदेश में बारिश के साथ ओले गिरने की खबर है. 

हिमाचल प्रदेश की ऊंची चोटियों में बुधवार को बर्फबारी और मैदानी क्षेत्रों में बूंदाबांदी हुई. रोहतांग, सोलंगनाला समेत पांगी-भरमौर की पहाड़ियां बर्फ से लकदक हो गई हैं. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने वीरवार को प्रदेश में भारी बारिश और बर्फबारी होने की चेतावनी जारी की है.

इस चेतावनी को देखते हुए राज्य सरकार ने भी अलर्ट जारी कर दिया है. रोहतांग दर्रा में बुधवार को दूसरे दिन भी बर्फबारी को दौर जारी रहा. इसके अलावा कुल्लू और लाहौल की ऊंची चोटियों पर भी बर्फबारी हुई. पहाड़ों में दो दिनों से बर्फबारी होने से घाटी के निचले इलाकों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है.

जिला चंबा के कबायली क्षेत्र भरमौर-पांगी की ऊपरी चोटियों सहित तहसील मुख्यालय में भी दस इंच तक बर्फबारी हुई. किहार सेक्टर के तहत धार मंदराला, गढ माता, चोंडी की घोड़ी, वन का गोठ, फैजाल, सौंणतीथ, मराली धार, सिप्पीधार में छह इंच तक ताजा हिमपात हुआ. जनजातीय क्षेत्र भरमौर की ऊपरी चोटियों मणिमहेश, काली छौ, कुगति, चौबिया, सुप्पा, बडग्रां, तुंदाह, उलांसा, स्वाई, चन्हौता, कवारसी, भटौर, जालसू में दस इंच बर्फबारी रिकॉर्ड हुई.

वहीं उत्तराखंड के ज्यादातर इलाकों में आज भारी बारिश और बर्फबारी का रेड अलर्ट जारी किया गया है. इसे देखते हुए शासन ने पांच पर्वतीय जिलों (पौड़ी, टिहरी, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली) में कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों में अवकाश घोषित कर दिया है. लेकिन, शिक्षकों को नियत समय पर स्कूल पहुंचना होगा.

जम्मू के अधिकतर इलाकों में बुधवार को बर्फबारी व बारिश का सिलसिला रुक-रुककर जारी रहा. पर्यटकों व स्थानीय लोगों ने बर्फबारी का लुत्फ उठाया. बर्फबारी व पस्सियां गिरने से एक बार फिर जम्मू श्रीनगर नेशनल हाईवे बंद हो गया है. इससे सैकड़ों वाहन को रोक दिया गया है. जम्मू के सीमावर्ती क्षेत्र कानाचक्क के ललेयाल में बिजली गिरने से एक भैंस की मौत हो गई.



loading...