ताज़ा खबर

राजस्थान में उग्र हुआ गुर्जर आंदोलन, रेलवे ट्रैक पर धरना जारी, झुकने को तैयार नहीं बैसला

अशोक गहलोत ने कहा- पहलू खान मामले में जरूरत पड़ी तो दोबारा होगी जांच, ओवैसी की मुस्लिमों से ये खास अपील

राजस्थान के कोटा से बीजेपी सांसद ओम बिड़ला हो सकते हैं अगले लोकसभा अध्यक्ष

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस में घमासान जारी, अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर फोड़ा बेटे की हार का ठीकरा

राजस्थान बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जारी, 79.85% छात्र हुए पास, सीएम अशोक गहलोत ने दी शुभकामनाएं

अलवर गैंगरेप पीड़िता से राहुल गांधी ने की मुलाकात, न्याय का दिया भरोसा

राजस्‍थान के करौली में पीएम मोदी ने कहा- पाकिस्तान की हेकड़ी निकल गई, अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने से कांग्रेस परेशान

2019-02-11_GurjarProtestRajasthan.jpg

राजस्थान में गुर्जरों का आरक्षण के लिए आंदोलन सोमवार को चौथे दिन भी जारी है. गुर्जर नेता मुंबई-पुणे रेल मार्ग पर पटरियों पर बैठे हैं जिसके चलते कई प्रमुख ट्रेन रद्द कर दी गयी हैं या उनके मार्ग में बदलाव किया गया है. राज्य में कई सड़क मार्ग भी बंद हैं. जहां गहलोत सरकार के मंत्री गुर्जर नेताओं से बातचीत करने के लिए जयपुर या कहीं और आने की बात कह रहे है. वहीं, गुर्जर नेता उन्हें यहीं बुला कर इस मामले पर फैसला लेने को बोल रहे हैं.

गुर्जर नेता विजय बैंसला ने सोमवार को एक बार फिर दोहराया कि सरकार को वार्ता के लिए मलारना डूंगर में रेल पटरी पर ही आना होगा और आंदोलनकारी वार्ता के लिए कहीं नहीं जाएंगे. कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला व पूरी टीम बैठकर फैसला करेंगे. उन्होंने कहा, ‘‘बातचीत क्या करनी है? सरकार पांच प्रतिशत आरक्षण की हमारी मांग पूरी करे और हम घर चले जाएंगे.’’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मांग नहीं माने जाने पर गुर्जर लंबे आंदोलन के लिए तैयार हैं.

वहीं, राज्य के सीएम अशोक गहलोत ने मीडिया से बातचीत में इस मुद्दे पर केंद्र से पाले में फिर से गेंद फेंक दी है. गहलोत ने कहा है कि राज्य सरकार उनकी हर तरह से मदद को तैयार है. लेकिन उन्हें अपनी मांग को केंद्र सरकार के सामने रखना चाहिए, क्योंकि इस मुद्दे पर केंद्र सरकार ही निर्णय ले सकती है.

वहीं पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) एम एल लाठर ने बताया कि आंदोलन के दौरान कहीं से अप्रिय घटना का कोई समाचार नहीं है. रविवार को कुछ हुड़दंगियों ने धौलपुर में पुलिस के तीन वाहनों को आग के हवाले कर दिया था और हवा में गोलियां चलाईं थीं. लाठर ने बताया कि आंदोलनकारियों ने दौसा जिले में सिकंदरा के पास राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 11 को अवरूद्ध कर दिया है. इसके साथ ही नैनवा (बूंदी), बुंडला (करौली) व मलारना में भी सड़क मार्ग अवरूद्ध है.



loading...