स्विस बैंकों में भारतीयों के बढ़े पैसे पर बवाल, राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना

2018-06-29_Rahul-Gandhi-moc.jpg

स्विस बैंक में जमा भारतीयों के पैसे में 50% बढ़ोत्तरी की सूचना पर राजनीतिक टिप्पणियां जारी हैं. अंतरिम वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को कहा कि साल 2019 तक भारत स्विट्जरलैंड में जमा काले धन को लेते आएगा. इसके जवाब में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट करके मोदी सरकरा पर निशाना साधा है और कहा है कि सरकार काले धन के खिलाफ कार्रवाई में पूरी तरह से फेल है.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, साल 2014 में उन्होंने कहा, मैं स्विस बैंक में जमा सभी कालेधन को लाउंगा और हर भारतीय के एकाउंट में 15 लाख रुपये डालूंगा. साल 2016 में उन्होंने कहा, नोटबंदी से भारत के सभी कालेधन वापस आ जाएंगे. साल 2018 में उन्होंने कहा, स्विस बैंक में भारतीयों के जमा पैसे में 50 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई, ये वाइट मनी है. स्विस बैंक में कुछ भी ‘काला’ नहीं है.

बता दें कि शुक्रवार को स्विस नैशनल बैंक ने अपनी वार्षिक डेटा का खुलासा करते हुए कहा है कि वहां जमा भारतीयों के पैसे में 50 फीसदी की बढ़ोत्तरी हो गई है और वह लगभग 7000 करोड़ रुपये पहुंच गया है. इस पर वित्त मंत्री पीय़ूष गोयल ने कहा था कि कैसे मान सकते हैं कि वहां जमा पूरे रुपये कालेधन हैं. अगर कोई भी कुछ भी गलत करते पाया गया तो उनके खिलाफ कड़े से कड़ा कदम उठाया जाएगा.

केंद्रीयमंत्री ने कहा, भारत और स्विट्जरलैंड के बीच एक एग्रीमेंट है. जनवरी एक 2018 से इस साल के अंत तक सभी डेटा हमें मिल जाएंगे. तो फिर हम क्यों माने कि सभी रुपये कालेधन हैं या इलीगल ट्रांजेक्शन हैं.



loading...