राहुल गांधी ने कहा- मसूद अजहर का बचाव करने वाले चीन से डर गए कमजोर प्रधानमंत्री मोदी

वाइस एडमिरल बिमल वर्मा की याचिका को रक्षा मंत्रालय ने किया खारिज, जानें क्या है मामला

कमल हासन ने ‘हिंदू’ शब्द को लेकर दिया विवादित बयान

सरकार के लिए विपक्ष की मोर्चेबंदी, राहुल गांधी से मिले नायडू, शाम को लखनऊ में अखिलेश-मायावती से करेंगे मुलाकात

लोकसभा चुनाव: PM मोदी और अमित शाह को मिली क्लीनचिट से नाराज चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने EC की मीटिंग से किया किनारा

PM मोदी की 5 साल में पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा- फिर बनेगी पूर्ण बहुमत वाली NDA की सरकार

साध्‍वी प्रज्ञा के नाथूराम गोडसे वाले बयान पर पीएम मोदी ने कहा- दिल से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा, अनिल सौमित्र को पार्टी से निलंबित किया

2019-03-14_RahulGandhi.jpg

जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित किए जाने की राह में चीन ने एक बार फिर अड़ंगा लगाए जाने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला है. राहुल ने ट्वीट किया है कि कमजोर प्रधानमंत्री चीन से डरे हुए हैं. भारत के खिलाफ चीन के इस रवैये के खिलाफ उनकी मुंह से दो शब्द नहीं निकला है.

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा- कमजोर मोदी शी जिनपिंग से डर गए. चीन ने मसूद पर पाबंदी लगाने वाली कार्रवाई को रोक दिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुंह से एक शब्‍द भी नहीं निकला.
ये है नमो की चीन को लेकर कूटनीति 
1 गुजरात में शी के साथ झूला झुले
2 दिल्‍ली में शी से गले मिले
3 चीन में शी के सामने झुक गए

इससे पहले कांग्रेस की ओर से रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक ट्वीट कर कहा- आज फिर आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई को चीन-पाक गठजोड़ ने आघात पहुंचाया है. 56 इंच की ‘Hugplomacy’ और झूला-झुलाने के खेल के बाद भी चीन-पाकिस्तान का जोड़ भारत को ‘लाल-आंख’ दिखा रहा है. एक बार फिर एक विफल मोदी सरकार की विफल विदेश नीति उजागर हुई.

आपको बताद दें कि जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर का चीन ने एक बार फिर बचाव किया है. तकनीकी अड़ंगा लगाते हुए चीन ने मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित किए जाने से बचा लिया है. इधर, अमेरिका सहित संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद(यूएनएससी) के कई सदस्य नाराज हैं. यूएनएससी के कई देश के सदस्यों ने कहा है कि चीन के इस रवैये के बाद अन्य कदम उठाने पर मजबूर हो सकते हैं.



loading...