ताज़ा खबर

CM अरविंद केजरीवाल के रिश्तेदार विनय बंसल की मुश्किलें बढ़ीं, PWD घोटाले में ACB ने किया गिरफ्तार

2018-05-10_pwd-sacm.jpg

दिल्ली एंटी करप्शन ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई की है। एसीबी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के एक रिश्तेदार को गिरफ्तार किया है। एसीबी ने केजरीवाल के साढू के बेटे विनय बंसल को गिरफ्तार किया है। विनय बंसल को ACB ने गुरुवार सुबह गिरफ्तार किया। PWD में फर्जीवाड़े के आरोप में यह गिरफ्तारी हुई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साढू की कंपनी ने रोड और सीवर के ठेकों में फर्जीवाड़ा किया। कंपनी के फर्जी बिल लगाकर सरकार को 10 करोड़ की चपत लगाई। 

बंसल की गिरफ्तारी की पुष्टि एंटी ग्राफ्ट यूनिट के प्रमुख स्पेशल पुलिस कमिश्नर अरविंद दीप ने की है। अरविंद दीप ने बताया, 'विनय बंसल अपने पिता सुरेंद्र बंसल के साथ इस फर्म में पार्टनर था। पीडब्ल्यूडी स्कैम केस में इनकी कंपनी ने निर्माण कार्य के लिए खरीदी गई सामग्री का बिल जमा किया था। हमारी जांच में पता चला है कि ऐसी कोई फर्म ही नहीं है। बिल फर्जी थे। आज विनय बंसल को गिरफ्तार कर लिया गया है।'

बता दें कि एसीबी वैसे तो दिल्ली सरकार के अधीन कार्य करता है लेकिन इसके अध्यक्ष व अन्य अधिकारी उपराज्यपाल नियुक्त करते हैं और ये लोग उन्हें ही रिपोर्ट भी करते हैं। एसीबी ने विसल ब्लोअर राहुल शर्मा की शिकायत पर सुरेंद्र बंसल के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। राहुल ने बंसल पर फर्जी बिल जमा कराकर पीडब्ल्यूडी विभाग से निर्माण कार्य कराने के एवज में पैसे लेने का आरोप लगाया था।

बता दें कि पुलिस ने मई 2017 में सुरेंद्र बंसल और वरिष्ठ PWD अधिकारियों के खिलाफ उन फर्म का पैसा रिलीज करने के मामले में तीन एफआईआर दर्ज की जो सिर्फ पेपर पर थीं।

सुरेंद्र बंसल यानी केजरीवाल के साढ़ू की उस दिन मौत हो गई थी जिस दिन एफआईआर रजिस्टर हुई थी। बता दें कि सुरेंद्र बंसल की फर्म ने बकोली गांव और इंदिरा नेहरू कैंप में निर्माण के लिए करीब 6 करोड़ का बिल जमा किया था। विसल ब्लोअर राहुल शर्मा जो पेशे से इंजीनियर हैं उन्होंने इस मामले में शिकायत दी थी। राहुल ने रोड्स एंटी करप्शन ऑर्गनाइजेशन नाम की संस्था भी बनाई है।



loading...