पीवी सिंधु से एयरलाइंस के ग्राउंड स्टाफ का दुर्व्यवहार, ट्विटर पर दी जानकारी

2017-11-04_PV-Sindhu-airlines-ground-staff.jpg

भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने इंडिगो एयरलाइन के ग्राउंड स्टाफ द्वारा उनके साथ कथित तौर पर दुर्व्यहार करने की शिकायत करते हुए इंडियो एयरलाइंस की कड़ी आलोचना की है. सिंधु ने इंडिगो एयरलाइंस के ग्राउंड स्टाफ द्वारा उनके साथ दुर्व्यहार करने की जानकारी ट्विटर पर दी. सिंधु ने ट्विटर पर एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए अपनी इस बेहद खराब यात्रा का अनुभव साझा किया है और हैरानी जताई है कि इंडिगो जैसी प्रतिष्ठित एयरलाइंस के साथ ऐसे लोग कैसे काम करते हैं.

वहीं इंडिगो एयरलाइन ने इस घटना पर बयान जारी करते हुए कहा है कि पीवी सिंधु अपने साथ एक बड़ा बैग ले जा रही थीं जोकि ओवरहेड बिन में फिट नहीं हो रहा था. इंडिगो द्वारा जारी बयान के मुताबिक, ‘पीवी सिंधु हैदराबाद-मुंबई फ्लाइट 6E608 से यात्रा कर रही थीं और अपने साथ एक बड़े आकार का बैग ले जा रही थीं जोकि ओवरहेड बिन में नहीं फिट बैठ रहा था. सिंधु को सूचना दी गई थी कि इसे विमान के कार्गो में रख दिा जाएगा. यही नीति हम सभी यात्रियों के लिए अपनाते हैं. बड़ा बैग केबिन में दूसरे यात्रियों के लिए परेशानी का कारण बन सकता है और अगर ठीक से न रखा जाए तो सुरक्षा के लिए भी खतरा हो सकता है.’

‘इस पूरी बातचीत के दौरान इंडिगो ग्राउंड ऑपरेशंस के सदस्य शांत रहे. आखिरकार काफी निवेदन के बाद वे बैग को केबिन से हराने को तैयार हुए. इस बैग को कार्गो में रख दिया गया और विमान की लैंडिंग पर सिंधु को दे दिया गया. हम खेल के क्षेत्र में सिंधु की उपलब्धियों को लेकर गौरवान्वित हैं और देश के लिए उन्होंने जो सम्मान अर्जित किया है उसके प्रति कृतज्ञ हैं. हालांकि सुरक्षा इंडिगो का सर्वप्रमुख उद्देश्य हैं.’

सिंधु के पिता के मुताबिक जिस बड़े बैग की बात की जा रही है और उसमें सिंधु अपने बैडमिंटन रैकेट ले जा रही थीं, जिसे ले जाने से मना करने के दौरान इंडिगो ग्राउंड स्टाफ ने उनसे काफी खराब ढंग से बात की. हालांकि सिंधु की मां ने इस पूरी घटना को ज्यादा गंभीर न बताते हुए कहा कि इस घटना को ज्यादा तूल नहीं दिया जाना चाहिए.

पीवी सिंधु ने लिखा है, ‘बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है…4 नवंबर को इंडिगो की 6E 608 फ्लाइट से बॉम्बे की यात्रा के दौरान ग्राउंड स्टाफ मिस्टर अजितेश (Ajeetesh) की वजह से बहुत ही खराब अनुभव हुआ.’

सिंधु ने एक और ट्वीट में लिखा है, ‘ग्राउंड स्टाफ मिस्टर अजितेश ने मेरे साथ बहुत ही खराब और असभ्यता से व्यवहार किया. जब एयर होस्टेस मिस आशिमा ने उन्हें यात्री (मेरे) से अच्छे से व्यहार करने की सलाह दी तो हैरानी की बात है कि उन्होंने उसके साथ भी बहुत ही बदतमीजी से बात की. अगर ऐसे लोग इंडिगो जैसी प्रतिष्ठित एयरलाइन के लिए काम करते हैं तो वे उसकी प्रतिष्ठा को धूमिल कर देंगे.’

ये पहली बार नहीं है कि किसी भारतीय खिलाड़ी को एयरलाइंस के खराब व्यहवार की वजह से परेशानी का सामना करना पड़ा हो. इससे पहले अतीत में क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और हरभजन सिंह भी ब्रिटिश एयरवेज और जेट एयरवेज जैसी एयरलाइंस की शिकायत कर चुके हैं.

, ,


loading...