पंजाब पुलिस का अमानवीय चेहरा आया सामने, महिला को जीप की छत पर बांधकर घुमाया

लोकसभा चुनाव: गुरदासपुर से बीजेपी उम्मीदवार सनी देओल ने चुनाव प्रचार बंद होने के बाद की जनसभा, EC ने भेजा नोटिस

लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस को झटका, वजोत सिंह सिद्धू के वोकल कॉर्ड हुए खराब, चुनाव-प्रचार से रहेंगे दूर

लोकसभा चुनाव: पंजाब में प्रचार के लिए पहुंचे अरविंद केजरीवाल को दिखाए गए काले झंडे

पंजाब के फतेहगढ़ साहिब में राहुल गांधी ने कहा- सैम पित्रोदा को अपने बयान पर शर्म आनी चाहिए, देश से माफी मांगे

पंजाब के तरनतारन में BSF ने मार गिराया पाकिस्तानी ड्रोन, डेढ़ घंटे तक रहा ब्लैक आउट

लोकसभा चुनाव: पंजाब में आम आदमी पार्टी को लगा बड़ा झटका, बीजेपी में शामिल हुए सांसद हरिंदर सिंह खालसा

2018-09-27_PunjabPolice.jpg

पंजाब पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया है. आरोप है कि पुलिस वालों ने एक आरोपी की पत्नी को जीप की छत पर बांध कर घुमाया और अंत में सड़क किनारे फेंक कर फरार हो गए. मामला अमृतसर के चाविंडा देवी गांव का है. घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस की इस करतूत पर सवाल उठ रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस मजीठा के चविंडा देवी गांव में एक आरोपी को पकड़ने गई थी.

आरोप है कि जब वह घर में नहीं मिला तो पुलिस ने उसकी पत्नी के साथ बदसलूकी की. इस दौरान पुलिसकर्मियों की महिला से कहासुनी हो गई. महिला का आरोप है कि पुलिस बिना किसी वजह के उसके पति को गिरफ्तार करने घर पहुंची थी. उसने जब इसका विरोध किया तो पुलिसवालों ने उसके साथ दुर्व्यवहार किया. कहासुनी के बाद पुलिसकर्मी महिला को अपने साथ ले गए और अपनी गाड़ी की छत पर बांध दिया. इसके बाद उन्होंने उसे पूरे गांव में घुमाया.

पुलिस की इस मनमानी के बीच गांव के लोग भी जुट गए. बताया जा रहा है कि पीड़िता गाड़ी से गिर भी गई थी, जिससे उसे चोटें आई हैं. आखिर में लोगों के गुस्से को भांपते हुए पुलिसकर्मी पीड़िता को छोड़कर चले गए. पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद पंजाब पुलिस के कामकाज के तरीके पर सवाल उठ रहे हैं. विपक्षी पार्टी शिरोमणि अकाली दल ने राज्य में बढ़ती इस तरह की घटनाओं के लिए कांग्रेस सरकार को दोषी ठहराया है. आपको बता दें कि इस महीने की शुरुआत में संगरूर शहर में अपनी पत्नी के साथ एक प्रमुख एसएडी कार्यकर्ता को गोली मार दी गई थी. 



loading...