झारखंड में 10 करोड़ से ऐसा पुल बना रहे हैं, जिस तक पहुंचने के लिए रोड ही नहीं

2017-11-14_jharkhand54.jpg

दामादोर नदी पर बेरमो में ऐसा पुल बनाया जा रहा है, जिसपर पहुंचने के लिए एप्रोच रोड का प्रावधान ही नहीं है. बेरमो रेलवे स्टेशन के पास दामोदर नदी पर 10 करोड़ रुपए की लागत से पुल बनवाया जा रहा है. चार वर्ष पहले इसका काम शुरू हुआ था, लेकिन आज तक यह अधूरा पड़ा है. इस पुल की जरूरत को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं. बनने के बाद पुल का इस्तेमाल कैसे होगा, अफसरों ने इस बारे में सोचा ही नहीं. 

वहीं, नदी के दूसरे छोर पर चलकरी बस्ती तक जाने के लिए सड़क का प्रोविजन ही नहीं किया गया है. फिलहाल वहां पेड़-पौधे हैं. निजी जमीन अधिग्रहीत करने और सड़क बनाने की योजना भी नहीं है. अधिकारी कह रहे हैं, पहले इसी तरह की प्लानिंग होती थी. पुल बनने के बाद फिर सड़क का देखेंगे.

जिस जगह पुल का काम हो रहा है, उससे आधा किलोमीटर के दायरे में पीडब्ल्यूडी 23 करोड़ रुपए की लागत से एक और पुल बना रहा है.

यह पुल भी चलकरी बस्ती को जोड़ने के लिए बनाया जा रहा है. इसका काम पूरा हो गया है. एप्रोच रोड का काम कुछ हिस्से में बचा है. फिर भी लोग आने-जाने में इसका उपयोग कर रहे हैं.

आरईओ के अफसरों का कहना है कि पुल बनने के बाद चलकरी बस्ती के 15 हजार लोगों को फायदा होगा. जबकि, बिना एप्रोच रोड के पुल का इस्तेमाल ही नहीं हो पाएगा. इस पर अफसरों का कहना है कि एप्रोच रोड की भी प्लानिंग करेंगे.

एसडीओ शंभुप्रसाद (बोकारो) ने बताया कि पहले पुल के साथ सड़क बनाने की योजना नहीं बनती थी. इसी कारण सिर्फ पुल बनाने का प्रावधान है. पुल निर्माण में अड़चन के कारण देरी हुई है. हालांकि अब काम में तेजी गई है. जल्द ही पूरा हो जाएगा. आने वाले वक्त में पुल लोगों के लिए फायदेमंद साबित होगा. सड़क की प्लानिंग बाद में करेंगे.



loading...