ताज़ा खबर

Pro Kabaddi League 2019: 20 जुलाई से होगा आयोजन, जानिए- इस बार क्या है नया

2019-07-17_PKLSeason7.jpg

क्रिकेट वर्ल्ड कप के बाद अब मौसम आ गया है कबड्डी का. इसके साथ ही वीवो प्रो कबड्डी लीग (PKL 2019) की तैयारियां भी शुरू कर दी गई हैं. PKL 2019 के सातवें संस्करण की शुरुआत इस साल 20 जुलाई से होगी. इस साल प्रो कबड्डी लीग के मैच नए समय पर कराए जाएंगे. 2014 में शुरू हुई इस लीग के नए सीजन के लिए आयोजकों ने मैचों के शुरुआत के नए समय की घोषणा कर दी है. PKL 2019 की शुरुआत तेलुगू टाइटंस और यू मुंबा टीमों के बीच मैच से होगी. लीग का पहला मैच हैदराबाद के गजीबाउली स्टेडियम में खेला जाएगा. प्रो-कबड्डी लीग-7 2019 की विभिन्न टीमों के प्रबंधन ने अपनी-अपनी टीम के मैच के शिड्यूल जारी कर दिए हैं.

बीते दिनों प्रो-कबड्डी लीग-7 के आयोजक मशाल स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के मुताबिक नए सीजन के मुकाबले शाम 7.30 बजे से खेले जाएंगे और प्रत्येक लेग की शुरुआत शनिवार को होगी. नए सीजन और नए समय की घोषणा करते हुए लीग कमिश्नर और मशाल स्पोर्ट्स के सीईओ अनुपम गोस्वामी ने कहा, “टेलीविजन व्यूअर्स और स्टेडियम पहुंचने वाले दर्शकों के अनुभव को बेहतर करने के लिए सातवें सीजन में हम मैचों को शाम 7.30 बजे शुरू करेंगे. लीग के चरण शनिवार को शुरू होंगे.” बयान में कहा गया है कि पीकेएल-7 के लिए जुलाई-अक्टूबर विंडो निर्धारित किया गया है. पीकेएल में 12 टीमें हिस्सा लेती हैं और इसका आयोजन कई शहरों में बारी-बारी से होता है. सीजन-6 में बेंगलुरू बुल्स टीम ने हरियाणा फॉर्च्यून जाएंट्स को हराते हुए पहली बार यह खिताब जीता था. आइए जानते हैं कि प्रो-कबड्डी लीग-7, 2019 में विभिन्न टीमों के मैच कहां-कहां और किन-किन टीमों के बीच होंगे.

तेलुगू टाइटंस- प्रो-कबड्डी लीग-7 की इस टीम का प्रायोजक वीरा स्पोर्ट्स है. इस बार यह टीम अपने होमग्राउंड पर सभी मैच जीतने की तैयारी कर रही है. लीग के सीजन 2 और 4 में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली यह टीम इस बार खिताब की प्रबल दावेदार बनना चाहती है.

2015 की लीग चैंपियन यू मुंबा इस साल भी अपना प्रदर्शन दोहराना चाहेगी. लीग के पहले मैच में तेलुगू टाइटंस से भिड़ने के बाद यह टीम अपना दूसरा मैच जयपुर पैंथर्स के खिलाफ खेलेगी. यह मैच 22 जुलाई को खेला जाएगा.

पटना पाइरेट्स – प्रो-कबड्डी लीग के इतिहास में लगातार दो बार चैंपियन बनने वाली एकमात्र टीम पटना पाइरेट्स इस साल अपना पहला मैच बेंगलुरू बुल्स के खिलाफ खेलेगी. प्रदीप नड़वाल की अगुवाई में यह टीम एक बार फिर अपना बेहतरीन प्रदर्शन दोहराने की तैयारी में है.

गुजरात फॉर्चून जायंट्स – प्रो-कबड्डी लीग की नवोदित टीम गुजरात फॉर्चून जायंट्स ने अपनी शुरुआत 2017 में की थी. लेकिन इस टीम ने आते ही अपनी धमक दिखा दी थी. इस साल भी टीम के प्लेयर्स लीग में चौंकाने वाला नतीजा देने की तैयारी कर रहे हैं.

तमिल थलइवाज- प्रो-कबड्डी लीग के दो सीजन में नाकाम रही यह टीम इस साल अपनी धमाकेदार शुरुआत करने के प्रयास में है. चेन्नई की इस टीम के सह-प्रायोजक महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर हैं. PKL 2019 में यह टीम अपना पहला मैच 21 जुलाई को तेलुगू टाइटंस के खिलाफ खेलेगी.

बेंगलुरू बुल्स- PKL की सफलतम टीमों में से एक बेंगलुरू बुल्स ने पिछले साल गुजरात फॉर्चून जायंट्स को हराकर चैंपियन का खिताब हासिल किया था. इस टीम ने 2015 में भी फाइनल मैच खेला था, लेकिन तब उसे यू मुंबा ने मात दे दी थी. लिहाजा इस बार टीम के खिलाड़ी पूरे जोशो-खरोश के साथ लीग में उतरने वाले हैं.

बंगाल वारियर्स – प्रो-कबड्डी लीग के किसी भी सीजन में इस टीम को अभी तक चैंपियन बनने का मौका हासिल नहीं हुआ है. लेकिन इस बार टीम के खिलाड़ी पुरजोर तैयारी में हैं. टीम के प्रमुख खिलाड़ी कोरिया के ली जांग-कुन हैं. यह टीम अपना पहला मैच 24 जुलाई को यूपी योद्धा के खिलाफ खेलेगी.

जयपुर पिंक पैंथर्स- बॉलीवुड स्टार अभिषेक बच्चन की फ्रेंचाइजी वाली यह टीम प्रो-कबड्डी लीग के पहले संस्करण की विजेता रही है. हालांकि इसके बाद टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है. लिहाजा इस साल टीम के खिलाड़ी खिताब जीतने की उम्मीद में जबर्दस्त तैयारी कर रहे हैं.

यूपी योद्धा- 2017 में प्रो-कबड्डी लीग का हिस्सा बनने वाली यह टीम अपने प्रदर्शन से हर बार दर्शकों को चौंकाती रही है. अपने पहले सीजन में ही यह टीम प्ले-ऑफ के दौर में पहुंची थी. इस साल यह टीम 24 जुलाई को अपना पहला मैच खेलेगी.

पुणेरी पल्टन- प्रो-कबड्डी लीग के शुरुआती दो सीजन में आखिरी मुकाबले तक लड़ने वाली पुणेरी पल्टन के खिलाड़ी इस साल पूरी तैयारी के साथ उतरेंगे. टीम को उम्मीद है कि इस साल वह खिताब की प्रमुख दावेदारों में से एक रहेगी.

हरियाणा स्टीलर्स- अपने पहले सीजन में ही प्ले-ऑफ तक पहुंचने वाली हरियाणा स्टीलर्स बाद के संस्करणों में दर्शकों पर प्रभाव नहीं छोड़ पाई थी. इसलिए पीकेएल-2019 में टीम को उम्मीद है कि वह खिताब के आखिरी दौर तक पहुंच सकती है.



loading...