खत्म हुआ प्रियंका का रोड शो, राहुल और सिंधिया के साथ कांग्रेस दफ्तर पहुंची

पुलवामा हमले में यूपी के जवान शहीद, राज्य सरकार एक व्यक्ति को नौकरी और 25-25 लाख रुपए देगी

अमर सिंह ने कहा- खनन घोटालों में कोई एक्शन ना हो इसलिए मुलायम सिंह ने की पीएम मोदी की तारीफ

मुलायम सिंह के बयान से दुखी हुए आजम खान, कहा- बहुत दुःख हुआ यह सुनकर, बीजेपी ने पोस्टर लगाकर कहा थैंक्यू

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया किस वजह से अखिलेश यादव को एयरपोर्ट पर रोका गया

पीएम मोदी ने वृंदावन में अक्षय पात्र के बच्चों को परोसा भोजन, कहा- विकसित देश के लिए शक्तिशाली और पोषित बचपन का होना जरूरी

पीएम मोदी ने ग्रेटर नोएडा में पेट्रोटेक का किया उद्घाटन, कहा- 2030 तक भारत दुनिया की दूसरी बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था होगा

2019-02-11_PriyankaVadra.jpg

कांग्रेस की नवनियुक्त महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की पार्टी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा सोमवार को लखनऊ में रोड शो किया. उनके साथ कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के पार्टी प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे. साथ ही प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख राजबब्‍बर और कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह भी इस रोड शो में शामिल थे. पूर्वी यूपी का महासचिव नियुक्‍त होने के बाद पहली बार प्र‍ियंका गांधी वाड्रा लखनऊ पहुंचीं.  लखनऊ एयरपोर्ट से शुरू हुआ प्र‍ियंका गांधी का रोड शो कांग्रेस दफ्तर पर जाकर समाप्‍त हुआ. प्रियंका और ज्योतिरादित्य 14 फरवरी तक लखनऊ में रुकेंगे. 

आपको बता दें कि पार्टी ने लोकसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी वाड्रा को महासचिव नियुक्‍त किया है. पदभार ग्रहण करने के बाद प्रियंका का यह पहला उत्‍तर प्रदेश दौरा है. इसके तहत प्रियंका अगले चार दिन तक लखनऊ में रहेंगी. इस दौरान वह पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत करेंगी.

दोनों जिम्मेदारी के हर लोकसभा क्षेत्र में 18 फरवरी से निकलेंगे. 30-35 दिन तक चलने वाले इस अभियान में वे रात्रि विश्राम भी वहीं करेंगे. इस अभियान के लिए प्रियंका और ज्योतिरादित्य, दोनों के लिए प्रदेश संगठन से बिल्कुल अलग एक टीम दी गई है.

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए एक ही रूम आवंटित किया गया है. इस रूम में कभी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी भी बैठी थीं. हालांकि, दफ्तर बनने के कुछ ही समय बाद उनकी हत्या हो गई थी, जिसके चलते उन्हें इस दफ्तर में आने का ज्यादा मौका नहीं मिला. उधर, प्रियंका-राहुल के स्वागत में पीसीसी दफ्तर को सजाया-संवारा गया है.

लखनऊ की सड़कें भी होर्डिंग्स से पाट दी गई हैं. प्रदेश कांग्रेस का वर्तमान मुख्यालय 1979 में पार्टी ने खरीदा था. हाल ही में इस दफ्तर का नवीनीकरण कराया गया है. एक नए मीडिया हॉल का निर्माण करवाया गया है. इसका उद्घाटन सोमवार को राहुल गांधी कर सकते हैं. अगर सोमवार को रोड शो के देर तक चलने के कारण यह मुमकिन नहीं हो पाया तो मंगलवार को प्रियंका ही इसका उद्घाटन करेंगी.



loading...