ताज़ा खबर

डोपिंग टेस्ट में फेल हुए पृथ्वी शॉ, BCCI ने लगाया 8 महीने का बैन, बोले- अनजाने में हुई गलती

IPL 2019: आज किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स के बीच होगी भिडंत, जानें कब और कहां देखें लाइव मैच

INDvsAUS: टीम इंडिया के लिए बुरी खबर, टखने में लगी चोट के कारण नहीं खेल पाएंगे पृथ्वी शॉ

INDvsWI: दूसरे दिन का खेल खत्म, टीम इंडिया ने 4 विकेट खोकर बनाए 308 रन, रहाणे-पंत नाबाद

भारत vs वेस्टइंडीज: दूसरे टेस्ट मैच के लिए टीम इंडिया का चयन, मयंक अग्रवाल को नहीं मिली प्लेइंग इलेवन में जगह

भारत vs वेस्टइंडीज: पृथ्वी शॉ का डेब्यू टेस्ट मैच में शानदार शतक, टीम इंडिया ने पहले दिन 4 विकेट खोकर बनाए 364 रन

भारत vs वेस्टइंडीज: टेस्ट डेब्यू मैच में शतक लगाकर आउट हुए पृथ्वी शॉ, क्रीज पर विराट-आजिंक्य

2019-07-31_PrithviShaw.jpg

भारत के युवा क्रिकेटर पृथ्वी शॉ को डोप टेस्ट में फेल पाया गया है जिसके बाद उन्हें 15 नंबवर 2019 तक के लिए बैन कर दिया गया है. बीसीसीआई ने डोपिंग रोधी नियम के उल्लंघन के चलते उन्हें 8 महीने के लिए निलंबित किया है. बैन होने के बाद इस मामले में पृथ्वी शॉ का बयान भी सामने आ गया है. उन्होंने कहा, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) द्वारा निलंबित किए जाने से वे निराश हैं, लेकिन वह अपने किए की पूरी जिम्मेदारी लेने को भी तैयार हैं. शॉ ने एक बयान जारी कर कहा, 'मुझे आज पता चला कि मैं नवंबर-2019 तक क्रिकेट नहीं खेल पाऊंगा.'

उन्होंने कहा, 'यह इसलिए हुआ क्योंकि मैंने खांसी की दवाई ली थी जिसमें प्रतिबंधित पदार्थ मिला हुआ था जिसके बारे में मुझे जानकारी नहीं थी. मैंने यह दवाई इंदौर में फरवरी 2019 में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेलने के दौरान ली थी.'

इस युवा बल्लेबाज ने कहा, 'मैं उस समय अपने पैर की चोट से वापसी कर चुका था जो मुझे आस्ट्रेलिया दौरे पर लगी थी. मैं इस टूर्नामेंट के जरिए वापसी चाहत था लेकिन खेलने की जल्दबाजी में मैंने प्रोटोकॉल को माना नहीं और गलती से वो दवाई पी ली. मैं पूरी गंभीरता से अपनी गलती स्वीकार करता हूं. मैं अभी भी चोट से जूझ रहा हूं जो मुझे पिछले टूर्नामेंट में लगी थी, ऐसे में इस खबर ने मुझे परेशान कर दिया है. मुझे इसे मानना होगा और उम्मीद करता हूं इससे खेल जगत को इस बात की प्ररेणा मिलेगी कि भारत में हम खिलाड़ियों को किसी भी तरह की दवाई लेने के मामले में काफी सतर्क रहना होगा और प्रोटोकॉल का पालन करना होगा.'

पृथ्वी शॉ ने कहा, 'मैं बीसीसीआई के समर्थन के लिए शुक्रिया अदा करता हूं. साथ ही अपने करीबी लोगों का भी जो हमेशा मेरे साथ खड़े रहे. क्रिकेट मेरी जिंदगी है और मेरे लिए अपने देश तथा मुंबई के लिए खेलने से बड़े गर्व की बात कुछ नहीं हो सकती, मैं इससे मजबूती से वापसी करूंगा.'

बीसीसीआई ने मंगलवार को ही एक बयान जारी कर पृथ्वी शॉ के निलंबन की जानकारी दी थी. बोर्ड ने कहा था कि शॉ ने अनजाने में प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन किया जो आमतौर पर खांसी की दवा में पाया जाता है.



loading...