छतरपुर स्थित जिला न्यायालय में अधिवक्ता संघ के द्वारा संपन्न की गई पत्रकार वार्ता

भय्यू महाराज ने ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर की थी आत्महत्या, 3 लोग गिरफ्तार

कर्नाटक के बाद अब मध्यप्रदेश में कांग्रेस हुई सतर्क, बीजेपी नेता ने कहा- जब तक मंत्रियों के बंगले पुतेंगे कांग्रेस सरकार गिर जाएगी

मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष बने एनपी प्रजापति, बीजेपी के गोपाल भार्गव बने नेता प्रतिपक्ष

मध्यप्रदेश: पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अन्य नेताओं संग मंत्रालय के बाहर गाया ‘वंदे मातरम्’

मध्यप्रदेश: ‘वंदे मातरम’ पर मचे हंगामे को लेकर कमलनाथ सरकार ने लिया यूटर्न, अब कर्मचारियों के साथ आम नागरिक भी होंगे शामिल

मध्‍यप्रदेश में ‘वंदे मातरम’ पर रार, शिवराज सिंह ने सरकार पर साधा निशाना, CM कमलनाथ ने रोक पर दी सफाई

2017-05-06_Press-Conference-By-Session-Court-In-Chattarpur.jpg

छतरपुर जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष राकेश दीक्षित के विरोध 3 सितंबर 2016 को लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के संबंध में माननीय राज्य अधिवक्ता परिषद जबलपुर के द्वारा 28 अप्रैल 2017 को निष्पक्ष व ऐतिहासिक निर्णय लिया गया. जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष राकेश दीक्षित के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव विधिक अनुसार पूर्ण नहीं है. 

इसीलिए एडवोकेट राकेश दीक्षित जी जिला अधिवक्ता संघ में छतरपुर के अध्यक्ष पद पर अपना कार्य यथावत करते रहें. निष्पक्ष साबित होने पर अधिवक्ता संघ द्वारा उनके सम्मान हेतु पत्रकार वार्ता की गई. अधिवक्ताओं द्वारा राकेश दीक्षित जी को सम्मान के साथ माल्यार्पण कर उनकी ईमानदारी कर्मठता के लिए हृदय से उनका स्वागत किया गया. अधिवक्ता के इस कार्यक्रम में कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे.



loading...