ताज़ा खबर

संसद भवन के सेंट्रल हॉल में लगी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर, पीएम मोदी ने कहा- उनसे बहुत कुछ सीखा

चुनाव आयोग का PM मोदी की बायोपिक पर रोक लगाने के बाद निर्माताओं ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

सेना के राजनीतिक इस्तेमाल को लेकर राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखने की खबर का पूर्व सैन्य अधिकारियों ने किया खंडन

PM मोदी के नाम एक और उपलब्धि, रूस ने दिया अपना सर्वोच्‍च नागरिक सम्‍मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयूज’

राफेल मामले में राहुल गांधी के बयान के खिलाफ बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की अवमानना याचिका

जेट एयरवेज पर गहराया संकट, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने नागर विमानन सचिव से मांगी रिपोर्ट

सुप्रीम कोर्ट का चुनावी बॉन्ड पर बड़ा फैसला, 30 मई तक सभी राजनीतिक दलों को चंदे की जानकारी देने के दिए निर्देश

2019-02-12_AtalBihariVajpayee.jpg

मंगलवार को संसद भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के आदमकद चित्र का अनावरण किया. इस दौरान उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विभिन्न दलों के अन्य नेता मौजूद रहे. 

इस मौके पर राष्ट्रपति कोविंद ने अपने संबोधन में कहा, 'अटल अपने सार्वजनिक जीवन की पाठशाला थे. वे संवेदनशील थे. वाजपेयी ने सत्ता में बने रहने या बचाने के लिए कभी सिद्धांतों से समझौता नहीं किया. उनका सपना था कि 21वीं सदी भारत की हो.'

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'अटल जी के जीवन पर बहुत सी बातें की जा सकती है. घंटों तक कहा जा सकता है फिर भी पूरा नहीं हो सकता. ऐसे व्यक्तित्व बहुत कम होते है. व्यक्तिगत जीवन के हित के लिए कभी अपना रास्ता न बदलना, ये अपने आप में सार्वजनिक जीवन में हम जैसे कई कार्यकर्ताओं के लिए बहुत कुछ सीखने जैसा है.'

वहीं कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी जी को याद किया जाएगा क्योंकि उनके शब्दों में विपक्ष के लिए आलोचना तो थी लेकिन उनके दिल में विपक्ष के लिए कभी गुस्सा नहीं था.



loading...