आंध्र प्रदेश में एंबुलेंस न मिलने से 8 महीने की गर्भवती महिला को लेकर 12 किमी पैदल चला पति, रास्ते में हुई डिलिवरी के बाद बच्चे की मौत

2018-07-31_AandhraPradesh.jpeg

आंध्र प्रदेश में प्रसव पीड़ा के बाद पत्नी को एंबुलेंस तक पहुंचाने के लिए पति 12 किलोमीटर तक उसे पैदल ले गया. रास्ता जंगली था, इसलिए यहां एंबुलेंस नहीं आ सकती थी. पति ने एक डलिया को बांस से बांधकर इसमें पत्नी को बैठाया और कुछ लोगों के साथ अस्पताल के लिए निकल पड़ा. लेकिन एंबुलेंस तक पहुंचने से पहले ही रास्ते में महिला ने बच्चे को जन्म दिया और नवजात की मौत हो गई.

जानकारी के मुताबिक, प्रसव के दौरान ज्यादा खून बहने से जिंदा मां (की हालत नाजुक हैं. वह अस्पताल में भर्ती है. विजयनगरम के आदिवासी इलाके में स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए लोगों को काफी परेशानियों से होकर गुजरना पड़ता है. पिछले कुछ महीनों में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं. जब गांववालों ने कंधों पर मरीजों को अस्पताल पहुंचा.



loading...