गोवा में र‍िलीज होगी Padmavat, इस वजह से पुलिस टालना चाहती थी स्‍क्रीनिंग

2018-01-10_release-in-goa.jpg

गोवा पुलिस ने राज्य में पद्मावत पद्मावत रिलीज न करने की बात कही है। इसको लेकर पुलिस ने राज्य सरकार को लेटर लिखा। इस पर सीएम मनोहर पर्रिकर ने कहा कि कानून-व्यवस्था ठीक रखने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे। अगर फिल्म को सेंसर बोर्ड से सर्टिफिकेट मिल गया है तो उसकी रिलीज रोकी नहीं जाएगी। बता दें कि पद्मावत की रिलीज डेट 25 जनवरी तय हो गई है।

गोवा पुलिस ने सरकार को लेटर लिखा कि राज्य में टूरिस्ट सीजन चल रहा है। अगर फिल्म रिलीज की जाती है तो पुलिस पर सुरक्षा को लेकर दबाव बढ़ जाएगा।पर्रिकर ने कहा कि मुझे लगता है कि फिल्म को सेंसर बोर्ड से अभी तक सर्टिफिकेट नहीं मिला है। सरकार ने लॉ एंड ऑर्डर सही रखने के लिए कदम उठाए हैं। लेकिन फिल्म को सर्टिफिकेट मिल गया है तो रिलीज नहीं रोकी जाएगी। मुझे लगता है कि सर्टिफिकेट मिलने के बाद फिल्म को रिलीज न करने की कोई वजह नहीं है। वैसे भी फिल्म को दिसंबर में रिलीज होना था। इसके लिए हम अतिरिक्त पुलिस बल तैनात नहीं कर सकते। मैं मामले को उस तरह नहीं देखता जैसे आप देखते हैं। मेरा मुद्दा लॉ एंड ऑर्डर को लेकर है।

पद्मावत' में 300 कट लगाए जाने की खबरों को सेंसर बोर्ड ने खारिज कर दिया है। बोर्ड के चयरमैन प्रसून जोशी ने मंगलवार को कहा कि सिर्फ फिल्म का नाम पद्मावती से बदलकर पद्मावत किया गया है। फिल्म अपने मौलिक रूप में ही रिलीज होगी। बता दें कि नाम व घूमर डांस में बदलाव सहित पांच बदलावों के साथ इस फिल्म को रिलीज करने की तारीख 25 जनवरी तय हो गई है।



loading...