सीएम नीतीश कुमार की सुरक्षा में बड़ी चूक, आरक्षण के विरोध में युवक ने फेंकी चप्पल

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट ने दिया मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर का मेडिकल टेस्ट कराने का आदेश

पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में JDU के मोहित प्रकाश ने मारी बाजी, ABVP का 3 सीटों पर कब्जा

तेज प्रताप का तलाक की अर्जी लेने से इनकार, कोर्ट ने ऐश्‍वर्या को भेजा नोटिस

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट से बिहार सरकार को बड़ा झटका, सीबीआई को सौंपी 17 शेल्टर होम केस की जांच

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट ने बिहार सरकार को लगाई फटकार, कहा- 24 घंटे में ठीक करें FIR

तलाक मामला: तेजप्रताप यादव ने ने ट्वीट कर बयां किया दिल का हाल, लिखा- ‘टूटे से फिर ना जुटे, जुटे गांठ परि जाये.'

2018-10-11_nitishkumar.jpg

बिहार के पटना में एक सभा में गए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर युवक ने चप्पल फेंक दी. इसके बाद युवक ने आरक्षण का विरोध करते हुए नारेबाजी भी की. इस घटना से बौखलाए जदयू नेताओं ने युवक की जमकर पिटाई की और उसके बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया. 

यह घटना करीब 12.30 बजे की है. दरअसल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जदयू के छात्र समागम कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बापू सभागार पहुंचे थे. इस दौरान जैसे ही वो कार्यक्रम का उद्घाटन करने के लिए मंच पर पहुंचे, चंदन नामक युवक ने मंच पर चप्पल फेंक दिया और आरक्षण का विरोध करते हुए नारेबाजी शुरू कर दी. हालांकि घटना के तुरंत बाद सुरक्षाबलों ने मुख्यमंत्री को सुरक्षा घेरे में ले लिया. 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सुरक्षा में बड़ी चूक सामने आई है. मुख्यमंत्री पर भरी सभा मे चंदन तिवारी नामक लड़के ने चप्पल फेंका और नारेबाजी की. इस घटना के तुरत बाद जदयू नेताओं ने युवक की जमकर पिटाई की और सुरक्षाबलों ने तुरंत सीएम को सुरक्षा घेरे में ले लिया.

बताया जा रहा है कि चंदन औरंगाबाद का रहनेवाला है और वह सवर्ण सेना का सदस्य है. युवक ने आरक्षण का विरोध करते हुए कहा कि इसकी वजह से बिहार के युवाओं का भविष्य अंधकार में चला गया है. युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है और इसकी वजह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं. 

युवक ने कहा कि आखिर हम बेरोजगार जाएं तो कहां जाएं, क्योंकि हमारे सामने नौकरी की समस्या एक पहाड़ की तरह है. युवक ने नीतीश कुमार से गुहार लगाई कि उन्हें राज्य में आरक्षण को खत्म कर देना चाहिए, ताकि बिहार के सभी युवा एक समान रूप से आगे बढ़ सकें.



loading...