पीएम मोदी ने आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू से की बात, प्रधानमंत्री से मिलेंगे TDP के दोनों मंत्री

2018-03-08_tdp-bjp.jpg

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज तेलुगुदेशम पार्टी के सुप्रीमो और आंध्र प्रदेश के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू से फोन पर बात की. टीडीपी सूत्रों के मुताबिक बातचीत में सीएम नायडू ने पीएम मोदी को अपने दो मंत्रियों के इस्तीफे और केंद्र सरकार से समर्थन वापसी की वजह बताई. टीडीपी के एनडीए से नाता तोड़ने के महत्वपूर्ण घटनाक्रम से पहले दोनों नेताओं के बीच बातचीत या मुलाकात नहीं हुई थी.  उधर, आज शाम 6 बजे टीडीपी के दोनों मंत्री अशोक गजपति राजू और वाई एस चौधरी पीएम मोदी से मिलेंगे. सीएम नायडू ने दोनों मंत्रियों को इस्तीफा देने का निर्देश दिया है.

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने के मुद्दे पर सीएम नायडू ने बुधवार को एनडीए से नाता तोड़ने का ऐलान किया था. बुधवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली ने साफ कर दिया था कि आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिया जा सकता क्योंकि ये संवैधानिक रूप से संभव नहीं है. इसके बाद सीएम नायडू ने अमरावती में प्रेस कांफ्रेंस कर एनडीए से अलग होने का फैसला सुनाया था. उन्होंने कहा था कि दोनों मंत्रियों को इस्तीफा देने को कह दिया गया है.

इधर, बीजेपी ने भी आंध्र प्रदेश कैबिनेट में शामिल अपने दो मंत्रियों को इस्तीफा देने को कह दिया जिसके बाद आज इन्होंने इस्तीफा दे दिया. चंद्राबाबू नायडू की सरकार में शामिल मानिक्याला राव और कामिनेनी श्रीनिवास राव गुरुवार को अपने पदों से इस्तीफा दे दिया. बीजेपी ने तेलुगुदेशम पार्टी के फैसले को राजनीतिक अवसरवादिता करार देते हुए उसके आरोपों से इंकार किया. प्रदेश भाजपा नेता कृष्णा सागर राव ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा आंध्र प्रदेश को मदद नहीं करने संबंधी चंद्र बाबू नायडू का बयान झूठ है.

इससे पहले बीजेपी को निशाने पर लेते हुए नायडू ने कहा था कि हम बीजेपी के साथ इसलिए आए क्योंकि हम चाहते थे कि आंध्र प्रदेश के साथ इंसाफ हो. मैं 29 बार दिल्ली गया और हर बार कई लोगों से मुलाकात की. इसके बावजूद हमारे साथ न्याय नहीं किया गया. उन्होंने हमेशा आंध्र के साथ नाइंसाफी की.

,


loading...